--Advertisement--

पूर्व एमवीआई रिश्वत लेने के पाए गए दोषी, 15 को सुनाई जाएगी सजा

सोमवार को यह फैसला निगरानी ब्यूरो के स्पेशल जज संतोष कुमार- नंबर दो की अदालत ने सुनाया।

Danik Bhaskar | Mar 12, 2018, 07:02 PM IST

रांची। रांची के पूर्व मोटर वाहन निरीक्षक (एमवीआई) प्रदीप कुमार अग्रवाल को 1000 रुपए घूस लेने के आरोप में दोषी ठहराया गया है। सोमवार को यह फैसला निगरानी ब्यूरो के स्पेशल जज संतोष कुमार- नंबर दो की अदालत ने सुनाया।

जेल भेज दिया
-कोर्ट ने आरोपी प्रदीप कुमार अग्रवाल को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 और 13-2 के तहत दोषी पाकर न्यायिक हिरासत में लिया और उसे जेल भेज दिया। सजा के बिंदु पर सुनवाई करने के लिए 15 मार्च की तिथि निर्धारित की है।

2001 का है मामला
-उनके खिलाफ 29 मई 2001 को निगरानी ब्यूरो थाना में मो. तसलीम ने आरोप लगाया था कि उसके ट्रक को छोड़े जाने को लेकर जांच रिपोर्ट देने के एवज में प्रदीप कुमार अग्रवाल 5000 रुपए घूस मांग रहे थे।

-ट्रक चालक एक हजार रुपए घूस देने को तैयार हुआ। इसी बीच निगरानी थाना को शिकायत की गई। निगरानी के धावा दल ने उन्हें घूस लेते हुए गिरफ्तार किया था। कोर्ट में 17 साल की सुनवाई की अवधि में निगरानी की ओर से 17 गवाहों के बयान दर्ज कराए गए।