--Advertisement--

कुत्तों ने लड़की का किया ये हाल, मां ने कहा-घर में होता टॉयलेट नहीं जाती जान

कुत्तों ने लड़की का किया ये हाल, मां ने कहा-घर में होता टॉयलेट नहीं जाती जान

Dainik Bhaskar

Jan 08, 2018, 10:09 AM IST
शव को खेत से गांव में लाते लोग। शव को खेत से गांव में लाते लोग।

कोडरमा (झारखंड)। मरकच्चो ब्लॉक के भगवतीडीह गांव में रविवार को 12 साल की एक बच्ची को कुत्तों ने नोंच-नोंचकर मार डाला। बच्ची शौच के लिए खेत में गई थी। जबकि यह गांव खुले में शौचमुक्त (ओडीएफ) घोषित किया जा चुका है। मृतका की मां ने बताया कि घर में शौचालय नहीं होने के कारण बेटी खेत में जा रही थी। अगर घर में शौचालय होता तो बेटी की जान ना जाती। वहीं, सोमवार को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पीड़ित परिजनों को तत्काल 1 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है।

-भगवतीडीह गांव मरकच्चो दक्षिणी पंचायत में है। यह वही पंचायत है, जहां से डीसी संजीव कुमार बेसरा ने ब्लॉक में शौचालय बनवाने की शुरुआत की थी। डीसी खुद गड्‌ढा खोदो अभियान की शुरुआत करने पहुंचे थे।
-प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक उमेश सिंह की बेटी मधु कुमारी रविवार सुबह आठ बजे शौच के लिए खेत जा रही थी। रास्ते में करीब एक दर्जन आवारा कुत्तों ने घेरकर हमला कर दिया।
-शरीर के कई हिस्सों को नोंचकर खा गए। तभी क्रिकेट खेलने जा रहे बच्चों ने देखा। शोर मचाया तो ग्रामीण जमा हुए। कुत्तों को खदेड़ा। लेकिन तब तक मधु की मौत हो चुकी थी।
-जानकारी मिलते ही एसआई जफर सिद्दिकी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। घटना की जानकारी ली। मां की शिकायत पर पुलिस ने कुत्तों के हमले से मौत की शिकायत दर्ज की है। घटना के बाद से मुखिया और पंचायत सेवक का मोबाइल स्विच ऑफ है।
-बीडीओ ज्ञानमणि एक्का ने बताया कि सर्वे की सूची के अनुसार शौचालय बनाया गया है। जल्दी ही फिर सर्वे कराया जाएगा। सभी घरों में शौचालय बनाया जाएगा।

फोटो/वीडियो: अय्युब खान।

X
शव को खेत से गांव में लाते लोग। शव को खेत से गांव में लाते लोग।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..