--Advertisement--

यहीं गड़ा है भगवान परशुराम का फरसा, महाशिवरात्री पर ऐसी उमड़ी भीड़

महाशिवरात्रि के दिन टांगीनाथ धाम में कई राज्यों से शिवभक्त अपनी आस्था लेकर पहुंचते हैं।

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 02:02 PM IST
टांगीनाथ धाम में उमड़ी भीड़। टांगीनाथ धाम में उमड़ी भीड़।

गुमला(झारखंड)। महाशिवरात्रि के दिन टांगीनाथ धाम में कई राज्यों से शिवभक्त अपनी आस्था लेकर पहुंचते हैं। मंगलवार को भी ऐसा ही माहौल दिखा। हालांकि झारखंड में कई स्थानों पर बुधवार को महाशिवरात्रि मनाई जाएगी। पूरा टांगीनाथ धाम श्रद्धालुओं से पटा हुआ है। लोग कतार में लगकर भगवान शिव की आराधना करते देखे गए।

-गुमला शहर से करीब 75 km व रांची से करीब 150 km दूर घने जंगलों के बीच स्थित है टांगीनाथ धाम। इस जगह का भगवान परशुराम से गहरा नाता है।
-यहां पर आज भी भगवान परशुराम का फरसा जमीन पर गड़ा हुआ है। झारखंड में फरसा को टांगी कहा जाता है, इसलिए इस स्थान का नाम टांगीनाथ धाम पड़ गया।
-धाम में आज भी भगवान परशुराम के पद चिह्न मौजूद हैं। साथ ही भगवान शिव से भी जुड़े कई रहस्य यहां मौजूद है। इसलिए महाशिवरात्रि के दिन यहां कई राज्यों से शिवभक्त अपनी आस्था लेकर पहुंचते हैं।

टांगीनाथ धाम मे हुई थी खुदाई, निकले थे सोने-चांदी के आभूषण
-1989 में पुरातत्व विभाग ने टांगीनाथ धाम में खुदाई की थी। खुदाई में उन्हें सोने-चांदी के आभूषण सहित अनेक मूल्यवान वस्तुएं मिलीं थीं।
-लेकिन कुछ कारणों से यहां पर खुदाई बंद कर दी गई और फिर कभी यहां पर खुदाई नहीं की गई। खुदाई में हीरा जड़ित मुकुट, चांदी का अर्धगोलाकार सिक्का, सोने का कड़ा, सोने की बाली, तांबे की बनी टिफिन आदि सामान मिले थे। यह सब चीजे आज भी डुमरी थाना के मालखाना में रखी हुई है।

फोटो: आरिफ हुसैन अख्तर।

X
टांगीनाथ धाम में उमड़ी भीड़।टांगीनाथ धाम में उमड़ी भीड़।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..