--Advertisement--

झारखंड आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन ने स्कूलों में बच्चों को बांटे ऊनी वस्त्र

झारखंड आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन ने स्कूलों में बच्चों को बांटे ऊनी वस्त्र

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 05:46 PM IST
मौके पर मौजूद निधि खरे व अन्य। मौके पर मौजूद निधि खरे व अन्य।

रांची। झारखंड आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन (जेसोवा) की तरफ से शनिवार को राजधानी रांची के दो स्कूलों में ऊनी वस्त्र का वितरण किया गया। मध्य विद्यालय जगन्नाथपुर और हटिया में आयोजित इस कार्यक्रम में जेसोवा की अध्यक्ष सह कार्मिक प्रशासनिक विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे के नेतृत्व में नए स्वेटर, टोपी, मोजा और चॉकलेट वितरित किए गए।निबंध और पेंटिंग प्रतियोगिता भी आयोजित...

- इस अवसर पर चिड़ियाघर यात्रा पर निबंध और पेंटिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जेसोवा की तरफ से पिछले महीने दोनों स्कूल के बच्चों को बिरसा मुंडा जैविक उद्यान रांची का भ्रमण कराया गया था। प्रतियोगिता में विजयी छात्रों को पुरस्कृत किया गया।

- इन दोनों स्कूलों में जेसोवा का पंख कार्यक्रम चलता है। यहां जेसेवा की तरफ से एक ऐसी बच्ची को पढ़ाई में मदद की जा रही है। जिसके रिश्तेदारों ने उसे बेच दिया था। उसे मुक्त करा कर स्कूल में नाम लिखाया गया है।


छोटी सी कोशिश से बेहतर भविष्य का निर्माण किया जा सकता है : निधि खरे


- इस मौके पर जेसोवा की अध्यक्ष निधि खरे ने कहा कि बच्चे देश के भविष्य होते हैं। इन्हें सही मौका और प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए। हम चीजों को बेहतर बनाने के लिए इन दोनों स्कूलों के बच्चों की मदद कर रहे हैं।

- इनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। इन्हें समान अवसर देने की जरूरत है, जिससे इन्हें आसमान छूने का मौका मिल सके। आज इस बात की जरूरत है कि आसपास के जरूरतमंद लोगों की मदद की जाए।

- हमारे कुछ सामाजिक दायित्व हैं। इस बात का ख्याल हर आदमी को रखना चाहिए। छोटी सी कोशिश से बेहतर भविष्य का निर्माण किया जा सकता है। इसलिए बदलाव लाने के लिए हम सभी को काम करने की जरूरत है। उन्नत समाज निर्माण में सभी की भागीदारी जरुरी है।

- झारखंड आईएएस आफिसर्स वाइव्स एसोसिएशन (जेसोवा) भी इस दिशा में एक कदम बढ़ा रहा है। ऐसी कई कोशिशों की आवश्यकता है। जिससे ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद लोगों को फायदा होगा। झारखंड में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। उन्हें तरसाने के लिए हमें आगे आना चाहिए।

- इस मौके पर जेसोवा की सचिव गायत्री सिंह, रंजीता गंगवार, सरिता पांडेय और ज्योति भजंत्री भी मौजूद थी।

फोटो : पवन कुमार।