--Advertisement--

रहस्यों से घिरा है यह कुंड, यहां ताली बजाने से निकलता है उबलता हुआ पानी

रहस्यों से घिरा है यह कुंड, यहां ताली बजाने से निकलता है उबलता हुआ पानी

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 05:59 PM IST
यहां ताली बजाने पर तेजी से पान यहां ताली बजाने पर तेजी से पान

रांची। हमारे देश में कई ऐसी जगह है, जो रहस्यों से घिरी हुई है। इनमें से ही एक है झारखंड के बोकारो जिले का यह जल कुंड। यहां ताली बजाने पर तेजी से पानी बाहर निकलता है। ऐसा लगता है मानो किसी बरतन में पानी उबल रहा हो। लोगों का तो यह भी मानना है कि इसमें नहाने से चर्म रोग दूर होते हैं। यहां पहुंचने के लिए बोकारो शहर से करीब 27 किमी दूर सड़क से जगासुर तक, उसके बाद कच्चे रास्ते पर करीब 300 मीटर पैदल चलना पड़ता है।

-कभी-कभी कुछ प्राकृतिक घटनाएं आपको हैरत में डाल देती हैं। वो ऐसी होती है जिनका रहस्य जान पाना बेहद मुश्किल होता है।
-ऐसा ही है यह जलकुंड। कंक्रीट की दीवारों से घेरा हुआ छोटा जलाशय। बेहद साफ और औषधीय गुणों वाला (स्थानीय प्रचलन के अनुसार)।
-जलाशय की मुंडेर से जब आप ताली बजाते हैं तब इसमें तेजी से पानी निकलता है। 2011-12 में पर्यटन विभाग ने इसकी दीवार बनवाई।
-इसके बाद इसकी तरफ किसी का ध्यान नहीं गया। लेकिन प्रशासन चाहे तो यह बेहतरीन पर्यटन स्थल बन सकता है।
-यहां गर्मियों में ठंडा और सर्दियों में गर्म पानी निकलता है। लोगों का मानना है कि इसमें नहाने से चर्म रोग दूर होते हैं। साथ ही मन्नतें भी पूरी होती हैं।
-कुंड से निकलने वाला पानी जमुई नामक छोटे नाले से होते हुए गरगा नदी में मिलता है। इसे दलाही कुंड के नाम से जाना जाता है।

-वर्ष 1984 से यहां हर साल मकर संक्रांति पर मेला लगता है। लोग स्नान के लिए पहुंचते हैं। कुंड के पास दलाही गोसाईं नामक देवता का स्थान है। यहां हर रविवार लोग पूजा करने पहुंचते हैं।