--Advertisement--

झारखंड विधानसभा के सत्र की तैयारियां जोरों पर , संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने पिछले सत्र में सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा दिये गए उत्तर की समीक्षा की

झारखंड विधानसभा के सत्र की तैयारियां जोरों पर , संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने पिछले सत्र में सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा दिये गए उत्तर की समीक्षा की

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 07:02 PM IST

रांची। आगामी 12 दिसम्बर से आरंभ हो रहे झारखंड विधानसभा के सत्र की तैयारियां जोरों पर हैं। इसी क्रम में शुक्रवार को संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने पिछले सत्र में सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा दिये गए उत्तर की समीक्षा की। पिछले सत्र ने 98 अतारांकित प्रश्नों के उत्तर अप्राप्त थे जबकि 6 तारांकित प्रश्नों के उत्तर भी अप्राप्त थे।

विधानसभा में कुल 2446 आश्वासन लंबित हैं, जिनमें पिछले सत्र के 13 आश्वासन भी शामिल हैं। गत सत्र में 75 शून्यकाल सूचना प्राप्त हुई, जिनमें 5 के उत्तर प्राप्त हुए जबकि 70 के उत्तर लंबित हैं। कुल 26 निवेदन प्राप्त हुए, जिनमें तीन का उत्तर प्राप्त हुआ, 23 निवेदन के उत्तर लंबित हैं।

समीक्षा में पाया गया कि महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग विधानसभा के ऑनलाइन पोर्टल में रजिस्टर्ड ही नहीं है। गत सत्र में विधानसभा सचिवालय की ओर से 473 प्रश्न विभिन्न विभागों को ऑनलाइन भेजे गए थे, जिनमें से 206 के उत्तर ऑनलाइन प्राप्त हुए जो कि कुल प्रश्नों का 43.55 प्रतिशत है।

संसदीय कार्य मंत्री ने संसदीय कार्य विभाग के सचिव को निर्देश दिया है कि वह सभी विभागों के सचिवों से संपर्क कर लंबित प्रश्नों के उत्तर प्राप्त करें ताकि उन्हें विधानसभा के पटल पर रखा जा सके।

इसी के साथ मंत्री ने समाज कल्याण विभाग का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है और कहा है की ऑनलाइन प्रश्नों के शत प्रतिशत ऑनलाइन उत्तर सुनिश्चित कराया जाए।