--Advertisement--

रिम्स में जूनियर डॉक्टरों ने खत्म की हड़ताल, कल टल गए थे ३५ ऑपरेशन

रिम्स में जूनियर डॉक्टरों ने खत्म की हड़ताल, कल टल गए थे ३५ ऑपरेशन

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2018, 01:20 PM IST
रिम्स के जूनियर डाॅक्टरों की ह रिम्स के जूनियर डाॅक्टरों की ह

रांची। रिम्स में मंगलवार से चल रही जूनियर डाॅक्टरों की हड़ताल बुधवार को खत्म हो गई। हेल्थ सेकेट्री सुधीर त्रिपाठी ने बैठक की और हड़ताली डॉक्टर्स की बात सुनी। हेल्थ सेकेट्री ने उनकी सुरक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया। इसके बाद जूनियर डॉक्टर्स ने अपनी हड़ताल वापस ले ली। डॉक्टर्स ने सुधीर त्रिपाठी को सीएस बनाए जाने की सूचना के बाद बधाई भी दी। जूनियर डॉक्टर्स सुरक्षा को लेकर यह हड़ताल की थी। इसकी वजह से 35 ऑपरेशन नहीं हुए थे।

मरीज के परिजनों से मारपीट के बाद की थी हड़ताल

-बताते चलें कि रिम्स के करीब 700 जूनियर डॉक्टर मंगलवार सुबह हड़ताल पर चले गए थे। दरअसल, सोमवार को सर्जरी विभाग में डॉक्टर्स के साथ एक मरीज के परिजनों ने मारपीट की थी। जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन (जेडीए) ने घटना के विरोध में हड़ताल बुलाई थी। मंगलवार को डॉक्टरों ने 2 बजे इमरजेंसी बंद करवाई और तीन बजे तक तीन मरीजों की मौत हो गई।

हड़ताल की वजह से नहीं हुई थी मौत: रिम्स अधीक्षक

-हड़ताल के दौरान 150 मरीजों ने अस्पताल छोड़ दिया। जिन मरीजों की मौत हुई है। इनमें सिसई गुमला की युवती अजमरी व दो अन्य मरीज थे। रिम्स प्रबंधन के पास सभी रिकॉर्ड हैं, लेकिन 3 मौतें कैसे हुईं, यह जानकारी नहीं है। तीनों मरीजों की एंट्री भी रजिस्टर में नहीं है। रिम्स प्रबंधन ने बताया कि इमरजेंसी में आने से पहले ही तीनों की मौत हो चुकी थी। लेकिन, परिजन कह रहे हैं कि तीनों मरीज इमरजेंसी आए तो जिंदा थे। रिम्स अधीक्षक डॉक्टर एसके चौधरी का कहना है कि 3 मौतें हुई हैं, लेकिन यह हड़ताल के कारण नहीं हुई।

X
रिम्स के जूनियर डाॅक्टरों की हरिम्स के जूनियर डाॅक्टरों की ह
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..