--Advertisement--

लालू की सुनवाई

लालू की सुनवाई

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 10:00 AM IST
लालू से मिलने के लिए बिहार के प लालू से मिलने के लिए बिहार के प

रांची। चारा घोटाला मामले में जेल में बंद लालू प्रसाद से मिलने उनके बेटे व बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव जेल पहुंचे। यहां उन्होंने लालू से मुलाकात की और उनका हाल चाल जाना। बाहर आने पर तेजस्वी ने कहा- 'मुश्किल से 5 मिनट ही बात हो सकी। अधिकांश समय तो प्रोसेस पूरा करने में ही बीत गया।'

-बताते चलें कि तेजस्वी यादव, लालू से मिलने के लिए रविवार को ही रांची आ गए थे। सोमवार की सुबह होटवार जेल गए।

-इस दौरान उनके साथ राजद के कई समर्थक भी मौजूद थे। हालांकि केवल तेजस्वी ही जेल के अंदर गए और लालू से मुलाकात की।

-बाहर आने पर तेजस्वी ने मीडिया से बात की और कहा- 'केवल 5 मिनट ही बात हो सकी। ज्यादातर समय तो मुलाकात के प्रोसेस को पूरा करने में ही बीत गया। हम उनकी सेहत को लेकर चिंतित हैं। इसलिए मुलाकात करने आए थे।'

-'उनका हार्ट का ऑपरेशन हुआ है। ऐसे में उनसे यह भी जाना कि उनकी तबियत कैसी है और दवा समय पर ले रहे हैं या नहीं।'

-तेजस्वी ने कहा- 'आज चारा घोटाले के एक मामले में वीडियो कॉफ्रेंसिंग से उनकी सुनवाई हुई। इसलिए भी मुलाकात का समय कम मिला।'

-बता दें कि दुमका ट्रेजरी से 139.35 करोड़ की अवैध निकासी मामले में वीसी से उनकी कोर्ट में पेशी हुई। डोरंडा ट्रेजरी से अवैध निकासी मामले में वो कोर्ट मे सशरीर पेश हुए।

2019 चुनाव से पहले ही गैर भाजपा महा गठबंधन बन जाएगा

-मुलाकात से पूर्व तेजस्वी यादव ने पत्रकारों से कहा कि '2019 चुनाव से पहले ही गैर भाजपा महा गठबंधन बन जाएगा। हमारे राष्ट्रीय नेता लालू प्रसाद ने इसके लिए जो कवायद की थी, उसी पर सार्थक अमल किया जा रहा है।'

-'महा गठबंधन में पहले हुई गलतियां न दोहराई जाएं, इसका खास ध्यान रखा जा रहा है। झारखंड में भी गठबंधन बनेगा।'

-'कांग्रेस, झामुमो समेत सभी प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं से बातचीत चल रही है। इसका सकारात्मक असर दिख रहा है।' वहीं, बिहार के बक्सर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले पर की गई पत्थरबाजी पर कहा कि 'जनआक्रोश है।'

-चारा मामले में लालू प्रसाद पर हालिया आए सीबीआई कोर्ट के निर्णय पर तेजस्वी यादव बोले कि 'वे वकीलों से बातचीत कर रहे हैं, ताकि ऊपरी अदालत में बेल के लिए आवेदन दिया जा सके।

-कहा कि 'राजद का हर कार्यकर्ता एकजुट है। लालू प्रसाद के विचारों को गांव और प्रखंड स्तर तक ले जाया जा रहा है। संगठन को विस्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं।'