--Advertisement--

घर के कोने से यूं खींच कर निकाली गई लाश, सामने आई पिता की दरिंदगी

घर के कोने से यूं खींच कर निकाली गई लाश, सामने आई पिता की दरिंदगी

Danik Bhaskar | Dec 11, 2017, 04:49 PM IST
घर के कोने से शव को खींच कर निका घर के कोने से शव को खींच कर निका

जमशेदपुर (झारखंड)। चांडिल स्थित कपाली के हाजरा मस्जिद के पीछे इस्लामनगर में निर्दयी पिता ने अपनी 13 साल की बेटी की हत्या कर दी। पिता उसके साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहता था। जब बेटी ने इसका विरोध किया तो उसने हत्या कर दी। इसके लिए आरोपी ने सबसे पहले अपनी पत्नी को बेहोश किया और फिर बेटी की हत्या कर घर के कोने में शव दफना दिया। करीब दो माह बाद रविवार को यह घटना सामने आई। पत्नी बेटी के बारे पूछती तो यह बताता था आरोपी...

-दो महीने पहले आरोपी जाफर हुसैन ने बीमार पत्नी साहिन परवीन को बेहोशी की दवा खिलाकर अचेत कर बेटी मुस्कान परवीन की हत्या कर दी थी।
-पत्नी हाेश में आई तो बेटी के बारे में पूछा। इसपर जाफर बोला, तुम्हारी तबीयत ठीक नहीं है इसलिए उसे रिश्तेदार के घर भेज दिया है।
-दो महीना बीत जाने के बाद साहिन ने कहा- मैं ठीक हो गई हूं। सारे काम कर सकती हूं। अब बेटी को ले आइए। इस पर जाफर ने धमकाते हुए कहा- चुप रहो, वरना जहां मुस्कान गई है, तुमको भी वहीं भेज दूंगा।
-उसके रवैये पर पत्नी को शक होने लगा और उसने कपाली पुलिस को इसकी जानकारी दी। इसके बाद हत्या का राज खुला और कपाली थाना पुलिस ने रविवार को आरोपी को अरेस्ट कर लिया।

आरोपी ने कही ये बात
-आरोपी जाफर हुसैन ने 13 वर्षीय मासूम बेटी मुस्कान परवीन की हत्या कर दी। जाफर ने वजह बताई कि मुस्कान पढ़ने में कमजोर थी इसलिए उसे मार डाला।
-जबकि उसकी पत्नी साहिन परवीन ने बताया कि वो एक बार बेटी से संबंध बनाना चाह रहा था। बेटी ने मुझसे शिकायत की तो मेरा उससे झगड़ा हो गया। जाफर ने बेटी की हत्या की धमकी दी थी।

शव की हालत हो चुकी थी क्षत-विक्षत
-पुलिस ने मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात प्रखंड पशु चिकित्सा पदाधिकारी अंबुज कुमार की मौजूदगी में आरोपी के घर में दफनाई गई लाश को निकाला।
-शव की हालत क्षत-विक्षत हो चुकी थी। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनाें के हवाले कर दिया गया। मुस्कान आजादनगर के एमओ एकेडमी में कक्षा 9 की छात्रा थी।

वीडियो: उपेंद्र प्रसाद महतो।