--Advertisement--

भाग रहे डकैत को लोगों ने दी ऐसी सजा, सुबह जमीन पर पड़ा मिला हाथ

भाग रहे डकैत को लोगों ने दी ऐसी सजा, सुबह जमीन पर पड़ा मिला हाथ

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 01:27 PM IST
ग्रामीणों ने पीट-पीटकर डकैत को ग्रामीणों ने पीट-पीटकर डकैत को

गिरिडीह(झारखंड)। देवरी थाना क्षेत्र में बीती रात हथियार बंद डकैतों ने तीन घरों में डाका डाला और लाखों रुपए की सम्पति लूट ली। इस दौरान लोगों ने डकैतों के एक साथी को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। उसका एक हाथ भी काट डाला। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे हॉस्पिटल भिजवाया, जहां उसकी मौत हो गई। घटना खटौरी पंचायत के एकडरिवा गांव की है।

-दरअसल, शनिवार की रात में 15-20 की संख्या में डकैत गांव में घुसे। यहां उन्होंने पारा टीचर योगेश्वर यादव के घर में डकैती की घटना को अंजाम दिया।
-योगेश्वर यादव के मुताबिक, डकैत छत से होते हुए घर के आंगन में आए थे, जिसमें से 5 लोग हथियार से लैस थे। बाकि के हाथों में लाठी डंडा था।
-कुछ लोगों का मुंह ढका हुआ था। डकैतों ने हथियार के बल पर सभी कमरे को खंगाला और घर में रखे ढाई लाख के जेवर, दो मोबाइल फोन, टॉर्च, मारुती गाड़ी का पेपर के अलावे 72 हजार रुपए कैश लूट लिए।
-इसके बाद दो हथियार बंद डकैत उसके घर की निगरानी में लगे रहे। अन्य डकैत गांव के ही प्रयाग यादव व छोटू यादव के घर में घुस गए।
-भुक्तभोगी प्रयाग यादव के मुताबिक डकैतों ने उसके घर से जेवर, कैश समेत दो लाख की सम्पति लूट ली। छोटू यादव की पत्नी कुसुम देवी के अनुसार, डकैतों ने उनके घर से गहने व कैश समेत 70 हजार की सम्पति लूट ली।

-उन्होंने बताया कि लूट के दौरान डकैतों ने उसका गला पकड़ रखा था। बेटे की हत्या करने की धमकी दे रहे थे।

ग्रामीण जागे तो भागने लगे डकैत

-इधर, डकैती की इस वारदात के दौरान ग्रामीण जाग गए और अपने घरों से लाठी-डंडा लेकर बाहर निकल आए। ग्रामीणों की आक्रमता को देख डकैत भागने लगे।
-इसी बीच डकैतों का एक साथी ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया। उसकी ऐसी पिटाई की गई कि हॉस्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने घटनास्थल से एक देशी कट्टा व जिन्दा कारतूस बरामद किया है।

फोटो/वीडियो: विनय कुमार पंडित।