--Advertisement--

बजट

बजट

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2018, 10:20 AM IST
बजट पेश करने के पहले राज्यपाल बजट पेश करने के पहले राज्यपाल

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास मंगलवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2018-19 का मूल बजट पेश किया। विधानसभा की कार्रवाही शुरू हुई और विपक्ष के भारी हंगामे की वजह से 12 बजे तक के लिए कार्रवाही स्थगीत कर दी गई। इसके बाद पुन: कार्रवाही शुरू की गई।जेएमएम और जेवीएम ने सदन से वॉक आउट कर दिया। बजट पेश होने के बाद विधानसभा की कार्रवाही बुधवार तक के लिए स्थगीत कर दी गई।

CM रघुवर दास ने बजट में पर्यटन पर भी दिया जोर, पतरातू होगा प्रमुख पर्यटन केंद्र

बजट की मुख्य बातें

-यह बजट करीब 80 हजार दो सौ करोड़ रुपए का है। मोटे तौर पर दस फीसदी ग्रोथ रेट देकर यह बजट तैयार किया गया है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में 75,673 करोड़ का मूल बजट था।

-मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा- 142 में से 121 योजनाएं पूरी की गई। इस साल दीपावली तक सभी घरों में बिजली पहुंच जाएगी। दो साल में दो मेडिकल कॉलेज खोले गए।
-सरकारी स्कूलों में पेयजल की सुविधा व ग्रामीण विद्युतीकरण पर खास जाेर रहेगा। जोहर परियोजना से गांवों का विकास किया जाएगा। गांवों में लद्यु और कुटीर उद्योगों का विकास किया जाएगा।

-नगर विकास पर 5 हजार करोड़ रुपए खर्च करने की योजना। कृषि बजट के माध्यम से किसानों की आय बढ़ाने पर विशेष जोर दिया जाएगा।

-सखी मंडलाें के आय बढ़ाने पर भी ध्यान दिया जाएगा। छोटे कोल्ड स्टोरेज बनाने की भी योजना। गरीबों की आमदनी तीन सालों में दोगुनी की जाएगी। पुल-पुलिया के निर्माण पर भी ध्यान।

-पशुपालन और मछली पालन से आय बढ़ेगी। 29 पिछड़े जिलों का विकास किया जाएगा। मेधा दूध को सशक्त किया जाएगा।

-मछली उत्पादन में झारखड आत्मनिर्भर बना है। बायो गैस प्लांट की स्थापना का प्रस्ताव। फूलों की खेती पर भी ध्यान दिया जाएगा।

एमएलए फंड से गांवों में लगेगी स्ट्रीट लाइट

-गोड्‌डा में कृषि विश्वविद्यालय खोला जाएगा। एमएलए फंड से गांवों में स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी। मोमेंटम झारखंड से जॉब के रास्ते खुले हैं।

-सभी जिले में मेगा स्किल सेंटर खोले जाएंगे। श्रमेव जयते झारखंड का मूल मंत्र। विश्विद्यालय में स्टार्टअप कोषांग बनाए जाएंगे।

-राज्य में लाह की खेती को बढ़ावा दिया जाएगा। मधुमक्खी पालन से मीठी क्रांति लाई जाएगी। पतरातू को वृहत पर्यटन स्थल बनाने की योजना।

-लुगु बुरू को राजकीय महोत्सव का दर्जा दिया जाएगा। रांची और खरसावा में सिल्क सेंटर बनाया जाएगा।

-आदिवासी क्षेत्रों में ओल्ड एज होम बनाए जाएंगे। टाना भगतों को मुख्य धारा में लाने पर जोर दिया जाएगा।

नगर निकायों में दादा-दादी पार्क बनाए जाएंगे

-जमेशदपुर महिला कॉलेज को विश्वविद्यालय दर्जा दिया जाएगा। सामूहिक विवाह कार्यक्रम को बढ़ावा दिया जाएगा।

-महिला कॉलेजों में महिला छात्रावास बनाया जाएगा। लावारिस शवों का अंतिम संस्कार करने वाली संस्था को सहायता राशि दी जाएगी। सभी कस्तूरबा स्कूलों में बाउंड्री वॉल बनाई जाएगी।

-नगर निकायों में दादा-दादी पार्क बनाए जाएंगे। रांची और धनबाद में ट्रांसपोर्ट नगर बनाया जाएगा। पाइप लाइन के माध्यम से सभी ग्रामीण क्षेत्र में पानी पहुंचाया जाएगा।

-भूमिहीनों को 5 एकड़ जमीन दी जाएगी। नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में आवासीय स्कूल खोले जाएंगे। झारखंड में भ्रष्टाचार खत्म होगा। जमशेदपुर और चाईबासा में प्रेस क्लब बनाया जाएगा।

X
बजट पेश करने के पहले राज्यपाल बजट पेश करने के पहले राज्यपाल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..