Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Ranchi DC Office Head Clerk Suicide Case Postmortem Report

बेटे ने समझा मजाक फंदे से झूलते मिले पिता, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से आया नया मोड़

बेटे ने समझा मजाक फंदे से झूलते मिले पिता, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से आया नया मोड़

Gupteshwar Kumar | Last Modified - Dec 17, 2017, 10:44 AM IST

रांची।लोअर वर्द्धमान कंपाउंड के फ्रेंड्स कॉलोनी निवासी और डीसी ऑफिस की गोपनीय शाखा के क्लर्क संजय झा (56)की खुदकुशी के मामले में नया मोड़ आ गया है। पोस्टमाॅर्टम (पीएम) रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि उनका गला रस्सी से दबाया गया था। पोस्टमार्टम में गला घोंटने की बात सामने आई है। उनके बेटे ने बताया था कि मंगलवार की रात पिता ने कहा था कि वे खुदकुशी करने जा रहे हैं, इसे उसने मजाक समझा था। रात 12 बजे उनका शव घर के ऊपर वाले कमरे में झूलता पाया गया था। हाथ-पैर में जख्म के निशान...

-रांची के डीसी मनोज कुमार शुक्रवार को रिम्स गए थे। उन्हें वहां के डॉक्टर्स ने पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट की मौखिक जानकारी दी है।
-इसके बाद डीसी मनोज कुमार ने एसएसपी कुलदीप द्विवेदी को मामले की गहन जांच करने का निर्देश दिया।
-आमतौर पर फांसी लगाने के बाद जो निशान गले में बनते हैं, वे निशान इस पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में नहीं है। रस्सी से गला दबाने पर जब व्यक्ति विरोध करता है, तब गले में रगड़ाने से घाव के निशान बन जाते हैं।
-वहीं निशान संजय झा के गले में मिले हैं। उनके पैर और हाथ में भी जख्म के निशान हैं। पुलिस ने संजय झा के छोटे बेटे निखिल के बयान पर खुदकुशी की एफआईआ दर्ज की थी।
-निखिल ने बताया था कि कमरे का दरवाजा तोड़ कर उनका शव उतार कर रिम्स ले जाया गया था। बेटे के अनुसार, उनके पिता पर काम का बोझ अधिक था, इस कारण उन्होंने खुदकुशी की थी।
-लालपुर के थानेदार रमोद सिंह का कहना है कि सूचना पर घर की छानबीन की गई तो घर का दरवाजा टूटा मिला था। मौके से पुलिस को नायलॉन की रस्सी मिली थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: bete ne smjhaa majaak to fnde se jhulte mile pitaa, PM riport se aayaa nyaa moड़
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×