Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Ranjay Singh Murder Story Dhanbad, One Year Later Accused Not Arrested Not Arrested

रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज

बताते चलें कि भाजपा विधायक संजीव सिंह के करीबी रंजय सिंह की हत्या गोली मारकर 29 जनवरी 2016 को बीच सड़क कर दी गई थी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 29, 2018, 12:28 PM IST

  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    रोती रंजय सिंह की पत्नी रूमी सिंह। 29 जनवरी 2016 को रंजय की हत्या कर दी गई थी।

    धनबाद (झारखंड)। लाश बन चुकी बॉडी में गोलियों के निशान गिने...। मामला दर्ज किया...। 4 बार रेड मारे...। एक बार पत्नी का बयान लिया...। एक साल में विधायक संजीव सिंह के करीबी रंजय सिंह हत्याकांड में पुलिस का अनुसंधान बस इतना ही है। रंजय सिंह की पत्नी रूमी सिंह पुलिस के कार्यशैली और उनकी क्षमता पर सवाल उठा रही हैं। न पुलिस हत्या की साजिश में शामिल चेहरों को बेनकाब कर सकी और ना ही गोली चलाने वाले शूटरों को पकड़ सकी।

    -बताते चलें कि भाजपा विधायक संजीव सिंह के करीबी रंजय सिंह की हत्या गोली मारकर 29 जनवरी 2016 को बीच सड़क कर दी गई थी।
    -रंजय सिंह ने मरने से पहले अपने वाट्सअप स्टेटस में लिखा था-'अपनी लाइफ खुलकर जीओ और हैप्पी रहो।' विधायक संजीव सिंह फिलहाल अपने चचेरे भाई व धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह के हत्या के आराेप में जेल में हैं।

    'बच्चों के सवालों का कोई जवाब नहीं मेरे पास'

    -रंजय सिंह की पत्नी रूमी सिंह कहती हैं, 'सालभर बीत गए। ऐसा कोई दिन नहीं जब मैं रोई नहीं। बच्चे आज भी पापा को खोजते हैं। पूछते हैं कि पापा कहां हैं। मेरे पास बच्चों के सवालों का कोई जवाब नहीं है।'
    -'उनके पति का खून सरेआम सड़कों पर बहा दिया गया। पर पुलिस हत्यारे को खोज नहीं पाई। यह क्या है...? क्या पुलिस की सारी काबिलियत सिर्फ नीरज हत्याकांड के अनुसंधान तक ही सीमित थी?'
    -रूमी कहती हैं... 'मुझे जानने का हक है कि आखिर मेरे पति के हत्यारे कौन हैं?...आखिर उनकी हत्या क्यों की गई? मेरे पति की हत्या में बड़े घराने के लोग शामिल हैं, इसलिए पुलिस उन्हें नहीं पकड़ रही है।'

    पुलिस की जांच
    -रंजय सिंह पर गोली चलने के 8 से 10 मिनट बाद पुलिस घटनास्थल पहुंची। सेंट्रल अस्पताल ले जाए गए रंजय को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लिया।
    -गोलियों के निशान गिने। उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा। राजा यादव (घटना के समय रंजय के साथ मौजूद) के बयान पर मामला दर्ज किया। 4 बार रेड मारे।
    -एक बार रंजय की पत्नी रूमी से बयान लिया। 365 दिनों में पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई के नाम पर इतना ही किया।

    -रूमी सिंह ने निराशाजनक जांच को लेकर मुख्यमंत्री जनसंवाद में शिकायत दर्ज की। इसके बाद पुलिस ने दो अज्ञात हत्यारों द्वारा हत्या किए जाने की बात कही है।

  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    रंजय को गोली मारने के बाद बाइक सवार दो शूटर गोविंदपुर की तरफ भाग गए थे।
  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    रंजय सिंह। (फाइल)
  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    घटना की रात हॉस्पिटल के बाहर रोते-बिलखते रंजय के दोस्त।
  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    रंजय सिंह। (फाइल)
  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    रंजय सिंह की वाइफ, विधायक संजीव सिंह की मां के संग।
  • रोती पत्नी ने उठाए ये सवाल, 1 साल बाद भी पति की हत्या बनी राज
    +6और स्लाइड देखें
    अपनी मां के संग विधायक संजीव सिंह।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Ranjay Singh Murder Story Dhanbad, One Year Later Accused Not Arrested Not Arrested
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×