--Advertisement--

पोटका में बेटे को स्वस्थ रखने के लिए मां ने कुतिया से कराई शादी, बाराती बने ग्रामीण

पोटका में बेटे को स्वस्थ रखने के लिए मां ने कुतिया से कराई शादी, बाराती बने ग्रामीण

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2018, 10:20 AM IST
शादी के बाद लड़के और कुतिया को शादी के बाद लड़के और कुतिया को

जमशेदपुर (झारखंड)। यहां पोटका के मोहलडीहा गांव में सोमवार को एक 4 साल के बच्चे की शादी कुतिया से कराई गई। ग्रामीण बाराती बने और शादी की सारी रस्म अदायगी बच्चे की मां ने कराई। लोगों ने सुझाव दिया था कि किसी कुतिया से शादी कराई जाए तो वह स्वस्थ रहेगा। इसके बाद यह शादी हुई।

-अनिल की मां सरस्वती सरदार ने बताया कि बच्चे की तबीयत अक्सर खराब रहती है। लोगों ने कहा- किसी कुतिया से शादी कराई जाए तो वह स्वस्थ रहेगा।
-इसके बाद शादी का शुभ दिन देखा गया। आखान जात्रा के दिन शुभ कार्य संपन्न होते हैं। इसलिए उन्होंने इसी दिन को चुना।
-सोमवार को शादी की रस्म पूरी करने के लिए गांव के चौराहे पर महिलाएं एकत्रित हुईं। उनके बेटे ने वरमाला पहना। कुतिया को सिंदूर लगाया और शादी की सारी रस्म की गई।

-गांव के नंदलाल मांझी ने बताया कि बच्चे का 10 माह में दांत निकले और वह ऊपरी जबड़े में हो, तो उसे अपशकुन माना जाता है। बच्चे के साथ भी ऐसा ही था।

-बताते चलें कि झारखंड में इससे पहले भी ऐसी शादी का आयोजन किया जा चुका है। कुछ साल पहले अंधविश्‍वास के चलते 18 साल की एक लड़की की शादी कुत्‍ते से करा दी गई थी। गांव के एक बाबा ने बताया कि लड़की पर प्रेत आत्‍माओं का साया है।
-लड़की के चलते परिवार वालों के साथ गांव पर साए का खतरा है। परिवार और गांव को इस विपत्‍ति से बचाने के लिए लड़की की शादी किसी भी इंसान से कराने से पहले कुत्ते से करानी होगी।

इसलिए करते हैं ऐसा

-इन शादियों को करवाने के पीछे जो तर्क दिए जाते है, वो भी अजीब हैं। एक कारण तो ये बताया जाता है कि यदि बच्ची के ऊपरी मसूड़े में पहला दांत आए तो इसका मतलब होता है कि उस बच्ची के ऊपर अशुभ ग्रहों का प्रभाव है जिसको दूर करने के लिए दूसरा दांत आने से पहले उसकी सांकेतिक शादी कुत्ते से करा दी जाती है।

फोटो/वीडियो: राकेश।

X
शादी के बाद लड़के और कुतिया को शादी के बाद लड़के और कुतिया को
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..