Home | Jharkhand | Ranchi | News | Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand

बैंक के अंदर घुसते ही रोने लगी महिला, कस्टमर्स ने मचाया हंगामा

बैंक के अंदर घुसते ही रोने लगी महिला, कस्टमर्स ने मचाया हंगामा

Gupteshwar Kumar| Last Modified - Dec 27, 2017, 12:26 PM IST

1 of

बोकारो(झारखंड)।   भारतीय स्टेट बैंक की एडीएम बिल्डिंग शाखा में हुई चोरी के बाद बुधवार बैंक में पहुंचे लोगों ने जमकर हंगामा मचाया। एक महिला तो रोने लगी। लोगों ने बैंक प्रबंधन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। बताते चलें कि चोरों ने यहां 72 लॉकर तोड़कर उसमें रखे करोड़ों के जेवरात और कैश चुरा लिए। इसका खुलासा मंगलवार को हुआ। क्योंकि बैंक तीन दिनों से बंद था।

 

 

-खबर मिलते ही बुधवार की सुबह लोग बैंक पहुंचे। मंगलवार सुबह बैंक पहुंचे ग्राहकों को भी गेट से ही लौटा दिया गया था। उन्हें चोरी की जानकारी भी नहीं दी गई।

-बुधवार को बैंक ने बाहर एक लिस्ट लगा दी थी। इसमें उनका नाम था, जिनके लॉकर तोड़ चोरी की गई। लोगों ने बैंक में घुसते ही जमकर हंगामा किया और बैंक प्रबंधक पर आरोप लगाया।

-वहीं, एक महिला बैंक के अंदर घुसते ही फूट-फूटकर रोने लगी। उनके पति के नाम पर लॉकर था और चोरों ने उसे भी निशाना बनाया था। पुलिस जांच में जुटी हुई है पर अब तक हाथ खाली है।

 

CCTV का तार भी काट दिया
-चोरों ने सीसीटीवी कैमरे के तारों को काट दिया और डीबीआर साथ ले गए। लेकिन मैनेजर के कमरे में लगा डीबीआर सुरक्षित है। पुलिस उसके फुटेज से चाेरों को तलाश रही है।
-बोकारो और चास के होटलों व लॉज की तलाशी ली जा रही है। तीन दिन की बंदी के बाद मंगलवार को बैंक खुला तो चोरी का पता चला।

-चोर खिड़की काटकर अंदर घुसे। वॉल्ट काे काटने का प्रयास किया, पर सफल नहीं हुए। फिर वन और टू सीरीज के 21 लॉकरों को काट डाला।

-एसपी कार्तिक एस पुलिस टीम के साथ पहुंचे तो वहां बीड़ी के टुकड़े और 1000-500 के पुराने नोट मिले। फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को बुलाया गया, लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ।

-एसबीआई की एजीएम रंजीता शरण ने बताया कि कितने की चोरी हुई है, यह स्पष्ट नहीं है। लॉकर मालिकों से पूछताछ के बाद ही इसकी जानकारी मिल पाएगी।

 

लॉकर से चोरी हुई तो बैंक जिम्मेदार नहीं
-रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की गाइडलाइन के मुताबिक अगर लॉकर से चोरी हो जाए, आग या बाढ़ के कारण सामान क्षतिग्रस्त हो जाए तो इसके लिए बैंक जिम्मेदार नहीं होता।
-बैंक किराया लेकर अपने स्ट्रॉन्ग रूम में ग्राहक को जगह देता है। ग्राहक लॉकर में क्या रख रहा है, बैंक को यह भी पता नहीं रहता। इसलिए कंपनसेशन भी नहीं मिलता।

 

Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand
SBI के 72 लॉकर तोड़कर चुरा ले गए लोगों का कीमती सामान।
Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand
बैंक में हैरान परेशान कस्टमर्स।
Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand
बैंक में जांच करती पुलिस।
Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand
मंगलवार को पुलिस को सूचना दी गई कि बैंक के 72 लॉकर के ताले तोड़े गए हैं।
Theft of Locker break in SBI Branch Bokaro Steel City Jharkhand
मामले की जांच करती पुलिस।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now