Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Victims Family Of Villagers Done Social Boycott

झोलाछाप डॉक्टर ने किया रेप, पीड़ित परिजनों का ग्रामीणों ने किया सामाजिक बहिष्कार

बैठक में पीड़ित परिजनों के खिलाफ ही सामाजिक बहिष्कार का फरमान जारी कर दिया गया।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 21, 2018, 07:07 PM IST

झोलाछाप डॉक्टर ने किया रेप, पीड़ित परिजनों का ग्रामीणों ने किया सामाजिक बहिष्कार

सरायकेला(झारखंड)। 13 साल की नाबालिग से उसी गांव के 40 वर्षीय झोलाछाप डॉक्टर विषम सरदार ने रेप किया। जब नाबालिग गर्भवती हुई तब मामले का खुलासा हुआ। इसके बाद गांव में एक बैठक बुलाई गई। इसमें विषम सरदार को बुलाया गया, लेकिन वो नहीं आया। इस बैठक में पीड़ित परिजनों के खिलाफ ही सामाजिक बहिष्कार का फरमान जारी कर दिया गया। इसके बाद पीड़ित परिवार ने शनिवार को मामले की जानकारी कुचाई थाने को दी।

-इस मामले के आरोपी विषम सरदार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। विषम सरदार पिछले 10 सालों से ग्रामीण क्षेत्रों में झोलाछाप डॉक्टर बन कर रह रहा था।
-स्थानीय लोगों के अनुसार पहली पत्नी की मौत के बाद उसने दूसरी शादी की है और उसके दो बच्चे भी हैं। वहीं, पीड़ित लड़की ने बताया कि घटना उस समय की है, जब धान रोपाई (जुलाई में) चल रही थी।
-एक दिन परिजन किसी रिश्तेदार के यहां गए थे। विषम सरदार ने रात के समय घर आकर इलाज करने की बात कही। इसके बाद उसने मेरे साथ रेप किया। पीड़िता के मुताबिक, उसने इसे इलाज समझकर परिजनों को जानकारी नहीं दी।

-लड़की गर्भवती हो गई। गर्भ में बच्चे का आकार बढ़ने लगा तो मामले का खुलासा हुआ। 3 जनवरी को पीड़िता की आंगनबाड़ी केंद्र में जांच करवाई गई तो गर्भ ठहरने की पुष्टि हुई।
-इसके बाद परिजनों ने नाबालिग से पूछताछ की तो पूरा मामला सामने आया। मेडिकल जांच के लिए पीड़ित नाबालिग को सरायकेला सदर अस्पताल में लाया गया। जहां महिला चिकित्सक सी भारती राव ने बताया कि नाबालिग को कम से कम 7 माह का गर्भ है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: jholaachhaap doktr ne kiyaa rep, piड़it parijnon ka garaaminon ne kiyaa saamaajik bahiskar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×