--Advertisement--

गोद में लेकर पत्नी की लाश घंटों बैठा रहा पति, छोटी सी बात पर हुआ था विवाद

गोद में लेकर पत्नी की लाश घंटों बैठा रहा पति, छोटी सी बात पर हुआ था विवाद

Danik Bhaskar | Jan 14, 2018, 06:20 PM IST
पुलिस के काफी पूछताछ करने के ब पुलिस के काफी पूछताछ करने के ब

रांची। थाने के बाहर रविवार को पति अपनी पत्नी की लाश गोद में लेकर तीन घंटे तक गाड़ी में बैठा रहा। पुलिस ने काफी पूछताछ की तब उसने बताया कि पत्नी को पांच साल के बेटे को गर्म कपड़े पहनाने के लिए डांटा तो उसने फंदे पर झूल अपनी जान दे दी। पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। पोस्टमॉर्टम सोमवार को होगा।


- पुलिस का कहना है कि बिशाखा नामक महिला की मौत होने की सूचना मिली तो पुलिस मौके पर पहुंची। बिशाखा के शव और उसके पति को लेकर जगन्नाथपुर थाना पहुंची।
-पति गिरीश से पुलिस पूछताछ करना चाह रही थी पर वह कार से बाहर नहीं निकल रहा था। बिशाखा का शव लेकर वह कार के अंदर ही लगभग तीन घंटे तक बैठा रहा।
-पुलिस के काफी पूछताछ करने के बाद गिरीश ने पूरी घटना की जानकारी दी। गिरीश पूरी तरह से बदहवास हो गया था। उसे यकीन नहीं हो रहा था कि उसकी पत्नी ने आत्महत्या कर ली है।गिरीश की शादी वर्ष 2012 में हुई थी।

दरवाजा तोड़ा तो देखा पत्नी फंदे पर झूल रही थी

-विशाखा का मायके सीतामढ़ी में है। परिजनों के आने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी और मामला दर्ज होगा। जगन्नाथपुर पुलिस का कहना है कि गिरीश हटिया ग्रिड में कार्यरत हैं।
-नाइट डयूटी के बाद सुबह घर आया तो देखा कि बेटा गर्म कपड़े नहीं पहना था। उसे ठंड लग रही थी। इसी बात पर गिरीश और बिशाखा में बहस शुरू हो गई।
-गुस्से में विशाखा अपने कमरे में चली गई और दरवाजा अंदर से बंद कर दिया। गिरीश ने काफी देर तक दरवाजा खुलवाने का प्रयास किया पर बिशाखा ने नहीं खोला। गिरीश ने गार्ड और अन्य लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा तो देखा कि बिशाखा फांसी के फंदे पर झूल रही थी।