Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Gangster Suraj Singh Love Story In Dhanbad Jharkhand

ऐसी है इस गैंगस्टर की लव स्टोरी, रंगदारी के लिए किया फोन और हो गया प्यार

ऐसी है इस गैंगस्टर की लव स्टोरी, रंगदारी के लिए किया फोन और हो गया प्यार

Gupteshwar Kumar | Last Modified - Dec 01, 2017, 12:33 PM IST

धनबाद (झारखंड)। पुलिस ने यहां गैंगस्टर सूरज सिंह के वेस्ट मोदीडीह स्थित घर, पतरातू और तेतुलमारी इलाके में पर्चे चिपकाए गए हैं। पर्चे में सूरज को तीस दिनों के अंदर कोर्ट में पेश होने के लिए कहा गया है। पिछले साल ऐसी चर्चा थी कि गैंगस्टर सूरज सिंह अब जिंदा नहीं है। उसके एक शागिर्द शिव शर्मा ने पुलिस को उसके डेंगू से मौत हो जाने की जानकारी दी थी। लेकिन अब पुलिस इस जानकारी को झूठा मान रही है। सूरज की लव स्टोरी भी काफी सुर्खियों में रही थी। रंगदारी मांगने के दौरान लड़की ने उठाया कॉल...

-'हैलो...तू...रंगदारी देगा या फिर तेरा कोई व्यवस्था करें...?' जेल में बंद सूरज ने एक समय धमकी भरा यह फोन रामगढ़ के एक बड़े कारोबारी को किया था।
-उसे फोन पर अपने इस सवाल के जवाब का इंतजार था। जवाब नहीं मिला, तो उसका गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया। वह फोन पर गाली देने लगा...।
-तभी फोन पर एक आवाज आई...। आवाज कारोबारी की नहीं, बल्कि एक लड़की की थी...। डरी-सहमी सी आवाज ने हैलो क्या बोला... सूरज चुप हो गया।
-लड़की ने कहा...'कितना गाली देते हो...। किस बात की रंगदारी...। गलत नंबर लगा है...। नंबर तो चेक कर फोन करो...।' लड़की दो मिनट तक बोलती रही और सूरज उसे सुनता रहा।
-यह पहला मौका था, जब सूरज ने अनिता की आवाज सुनी थी। रॉन्ग नंबर पर हुई बातचीत ने उसे रातभर सोने नहीं दिया।
-उसके साथ उस समय जेल में बंद गिरोह के सदस्य सतीश (बदला हुआ नाम) के अनुसार सूरज ने सुबह में फिर उसी नंबर पर कॉल किया।
-अनिता की आवाज सुनी और फोन काट दिया। धीरे-धीरे यह सिलसिला बढ़ता गया और दोनों एक-दूसरे के करीब आने लगे। सतीश कहता है... सूरज की प्रेम कहानी जेल में मजाक का विषय बन गया था।

GF के लिए रामगढ़ में दो साल रहा


-जेल से निकलने के बाद सूरज अपनी गर्लफ्रेंड अनिता से मिलने रामगढ़ पहुंचा। उसने अनिता को पाने के लिए उसके पड़ोस में किराए पर मकान लिया।
-वो करीब दो साल तक रामगढ़ में रहा। अनिता के पिता एक कोयला कारोबारी थे। उन्हें जब बेटी के इस प्रेम का पता चला तो उन्होंने इसे स्वीकार नहीं करने का एलान किया।
-सूरज की आपराधिक दुनिया अनिता के पिता को पसंद नहीं थी, पर अनिता को सूरज का गैंगस्टर कहलाना पसंद था। हथियार, पैसा और महंगे गिफ्ट उसे अच्छे लगते थे।

लिव इन में रहने लगे


-प्रेम अब परवान चढ़ रहा था। अनिता ने एक बार फिर अपने पिता को समझाने की कोशिश की। पर पिता का जवाब नहीं बदला।
-सूरज ने अनिता को साथ भागने का ऑफर दिया। अनिता तैयार हो गई। फिर क्या था...एक दिन दोनों रामगढ़ से फरार हो गए।
-अनिता को लेकर सूरज तेतुलमारी (धनबाद) स्थित अपने पिता के घर पहुंचा। दोनों लिव इन रिलेशन में रहने लगे। सूरज ने तेतुलमारी में रहकर अपने गैंग को नया आकार दिया।

साल 2011 में देवघर पहुंचकर शादी की


-कई माह तक साथ में रहने के बाद सूरज ने साल 2011 में अनिता के साथ शादी का निर्णय किया। शादी के लिए देवघर को चुना गया।
-अनिता को लेकर सूरज देवघर स्थित वैद्यनाथ धाम पहुंचा और यही उसने शादी रचाई।परिवार के कुछ सदस्य भी शादी में पहुंचे। देवघर में शादी कर सूरज पुन: तेतुलमारी आ गया।

जहां रहा, साथ रही अनिता


-शादी के बाद अनिता कभी भी सूरज से दूर नहीं रही। गैंग के लोगों की मानें तो धनबाद में पुलिस की दबिश बढ़ी तो सूरज को यहां से भागना पड़ा।
-उसके साथ अनिता भी धनबाद से भाग गई। दोनों कई माह तक बनारस में रहे। सूरज छपरा गया तो अनिता भी साथ गई। सूरज और अनिता के साथ गैंग के तीन लोग हमेशा साथ रहते थे, जिसमें शिव शर्मा एक था।

पिछले साल मौत का किया था दावा


-बताते चलें कि धनबाद के करीब आधे दर्जन मामलों में सूरज सिंह वांटेड है, जिसमें कुछ मामलों में कुर्की जब्ती की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।
-दो साल पूर्व ही उसके माता-पिता यहां आवास छोड़ कहीं और रहने चले गए। पिछले साल सूरज की मां ने तेतुलमारी थाने में आकर उसके मौत का दावा किया थर। पर पुलिस इसे अमान्य मान रही है।

आगे की स्लाइड्स में देखिए संबंधित फोटोज...

फोटो: शिवानंद पांडेय।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: aisi hai is gaaingastr ki love stori, vsuli ke liye kiyaa kol aur ho gaya pyaar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×