--Advertisement--

बीमारी

बीमारी

Danik Bhaskar | Jan 01, 2017, 10:30 AM IST
रांची। 5 साल के शौर्य को दुनिया की रेयर बीमारी है। इस बीमारी के कारण शौर्य के अंग लगातार खराब होते जा रहे हैं। हंटर सिंड्रोम से पीड़ित होने वाला शौर्य झारखंड का अकेला केस है। बच्चों में यह बीमारी होती है, जिसके बाद उनका विकास रुक जाता है। समय पर इलाज ना होने पर शरीर की हड्डियां अकड़ने लगेगी।
-देश भर में अबतक इस बीमारी से मात्र 167 लोग पीड़ित हुए हैं। यह आंकड़ा सर गंगा राम हॉस्पिटल के जेनेटिक्स विभाग के निदेशक डॉ. आईसी वर्मा ने केंद्र सरकार की ओर से गठित टीम में रहते हुए तैयार किया था।
- वेल्लोर स्थित सीएमसी, क्रिश्चन मेडिकल कॉलेज की रिपोर्ट के मुताबिक इस बीमारी से पीड़ित होने के कारण शौर्य 12 से 15 साल तक ही जिंदा रह सकेगा।
-शौर्य जब तीन साल का था, तब इस बीमारी का पता चला। इस बीमारी के इलाज में हर साल करीब दो करोड़ रुपए खर्च होंगे।
-इस बीमारी की दवा एलाप्रास दुनिया भर में सिर्फ इंग्लैंड में मिलती है जिसे सायर कंपनी बनाती है। इस दवा की ही कीमत दो करोड़ रुपए के आसपास है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए पूरा मामला...