Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» State Establishment Day Parade Ceremony At JAP Ground Ranchi

गश खाकर गिरी लेडी कांस्टेबल, साथियों ने उठाया नहीं, सीएम भी बढ़ गए आगे

गश खाकर गिरी लेडी कांस्टेबल, साथियों ने उठाया नहीं, सीएम भी बढ़ गए आगे

Animesh Nachiketa | Last Modified - Nov 14, 2017, 01:59 PM IST

रांची (झारखंड)। यहां के डोरंडा स्थित झारखंड आर्म्ड पुलिस ग्राउंड पर मंगलवार को परेड की सलामी लेते समय एक लेडी कॉन्स्टेबल बेहोश होकर गिर गई। उस समय सीएम रघुवर दास डीजीपी डीके पांडेय के साथ झारखंड स्थापना दिवस परेड समारोह की सलामी ले रहे थे। अचानक हुई इस घटना के दौरान सीएम और डीजीपी चौंके और फिर आगे बढ़ गए।साथियों ने बाद में उठाया...

- लेडी कॉन्स्टेबल के गिरने के बाद बगल में खड़ी उनकी साथी कॉन्स्टेबल थोड़ी परेशान जरुर हुईं, लेकिन डिसिप्लीन के चलते कोई भी अपनी जगह से नहीं हिला।

- सीएम की जिप्सी जैसे ही आगे बढ़ी, उसके बाद जमीन पर गिरी लेडी कॉन्स्टेबल को एक महिला साथी ने उठाया और जमीन पर ठीक से बिठाया।

- इसके बाद उसे ग्राउंड से बाहर ले जाया गया। बताया गया कि परेड के लिए अल सुबह से ही सभी रिहर्सल कर रहे थे, इसी कारण कमजोरी से लेडी कांस्टेबल बेहोश हो गई।

89 पुलिस ऑफिसर्स और कर्मियों को मिला मेडल

- इस कार्यक्रम में सीएम रघुवर दास ने 89 पुलिस ऑफिसर्स और कर्मियों को मेडल प्रदान किया। इसमें आईजी से लेकर कांस्टेबल तक शामिल थे।

- इसके अलावा सीएम ने वर्ष 2017 में झारखंड पुलिस के शहीदों के परिजनों का भी सम्मान किया। सीएम ने जेपीएचसीएल द्वारा नवनिर्मित 25 नए पुलिस भवनों का ऑनलाइन उद्घाटन भी किया।

- कार्यक्रम में अनुकंपा के आधार पर हुई बहाली के लिए नियुक्ति पत्र का भी वितरण सीएम ने किया। कार्यक्रम की शुरुआत परेड और बैंड डिस्पले के साथ हुई। मुख्यमंत्री ने परेड की सलामी ली।
- मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड पुलिस लगातार आम लोगों की सुरक्षा में लगी हुई है। आने वाले दिनों में झारखंड नक्सल मुक्त राज्य होगा। जो नक्सली मुख्य धारा से नही लौटेंगे उनका सफाया किया जाएगा।
- सीएम ने कहा कि झारखंड पुलिस ट्रैफिक को लेकर जागरुकता फैला रही है। उनका ये कदम सराहनीय है। इससे अनुशासन दिखेगा और अपराध में भी कमी आएगी। पुलिस अपनी ड्यूटी इस तरह करें कि वो मिसाल बने। आपको संविधान में एक अलग ताकत दी गई है।

एसीबी के कर्मियों को मिलेगी 25% प्रोत्साहन राशि

- सीएम ने कहा कि एंटी करप्शन ब्यूरो में कार्यरत सभी कर्मियों को भी एक जनवरी 2018 से 25 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि मिलेगी। इसपर राज्य सरकार प्रति वर्ष 3 करोड़ की राशि खर्च करेगी।
- राज्य में 15 नए पुलिस अनुमंडल, 6 साइबर थाने, 3 ट्रैफिक थाना, 14 नए थाने और दो ओपी को स्वीकृति दे दी गई है।
- सीएम ने कहा कि हम डिजिटल युग में जी रहे हैं। साइबर क्राइम थानों को बेहतर तरीके से चलाएं। नई तकनीक सिखाने के लिए समय समय पर जवानों को प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए।
- सीएम ने कहा कि राज्य की रक्षा करते हुए जिन बहादुर जवानों ने अपने प्राणों की आहूति दी, उन्हें नमन है। सभी शहीदों के परिवारों की देखभाल राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। शहीदों के परिवार को कोई असुविधा नहीं होगी।


साइबर और वुमेन क्राइम पुलिस के लिए चुनौती : चीफ सेक्रेटरी

- इस मौके पर मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने कहा कि पुलिस देश कि आंतरिक सुरक्षा का काम करती है। दक्ष सक्षम और कुशल पुलिस कि जरुरत हर राज्य को होती है।
- झारखण्ड पुलिस पर जनता को विश्वास है और हमें झारखण्ड पुलिस पर गर्व है। आतंकवाद, साइबर क्राइम, महिला के प्रति क्राइम आज झारखण्ड पुलिस के लिए चुनौती है। इसके लिए जरुरी है समस्या को गहराई से समझ कर गहराई से अनुसन्धान किया जाए।


पुलिस होगी मार्डन, हजारों नियुक्तियां जल्द : गृह सचिव


- कार्यक्रम में गृह सचिव एसकेजी रहाटे ने कहा कि आज झारखण्ड में स्मार्ट पुलिस स्टेशन, साइबर थाना, डायल 100 आदि कि शुरुआत की गयी है।
- आने वाले समय में पुलिस का आधुनिकीकरण किया जाएगा। 3000 पुलिस अवर निरीक्षक, 3000 पुलिस आरक्षी, 1500 पुलिस कर्मियों कि नियुक्ति अगले कुछ महीने में होगी।

पुलिस में एक तिहाई महिलाएं शामिल होंगी : डीजीपी

- मौके पर डीजीपी डीके पांडेय ने कहा कि पुलिस के हाथ में झारखण्ड सुरक्षित है। झारखण्ड पुलिस महिलाओं कि सुरक्षा के लिए दिन रात लगी हुई है।
- आने वाले समय में झारखण्ड पुलिस में एक तिहाई महिलाएं शामिल होंगी। आने वाले दिनों में झारखण्ड पुलिस का चेहरा बदल जायेगा।
- झारखण्ड से अपराधियों के सफाए के लिए अनुसन्धान विभाग कमर कस के काम कर रही है। झारखण्ड पुलिस ने साइबर क्राइम को समाप्त करने के लिए साइबर अपराधियों के लिए मुहिम चला रही है।
- डीजीपी ने कहा कि झारखंड पुलिस आम लोगों की सुरक्षा के लिए अपने खून का एक-एक बूंद बहा देगी।
- परेड समारोह में मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, गृह सचिव एसके जी रहाटे, डीजीपी डीके पांडेय, डीजी बीबी प्रधान, एडीजी रेजी डुंगडुंग, विकास आयुक्त अमित खरे, कार्मिक सचिव निधि खरे सहित अन्य सभी पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

आगे की स्लाइड्स पर देखें संबंधित PHOTOS :

फोटो : संजय कपरदार।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×