--Advertisement--

चंद्रप्रकाश चौधरी के सरकारी उपसचिव का आजसू पार्टी के पोस्टर बैनर में नाम आने से विवाद गहराया झामुमो ने की आपत्ति प्रकट

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 10:31 AM IST

चंद्रप्रकाश चौधरी के सरकारी उपसचिव का आजसू पार्टी के पोस्टर बैनर में नाम आने से विवाद गहराया झामुमो ने की आपत्ति प्रकट

रोते-बिलखते मृतक के परिजन। रोते-बिलखते मृतक के परिजन।

बोकारो(झारखंड)। अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉलर अजय सिंह ने बोकारो के सेक्टर 9 में बुधवार की देर रात अपनी ही जान पहचान के दो लोगों पर गोली चला दी। इसमें से एक की मौत हो गई। जबकि दूसरे घायल का इलाज बीजीएच में चल रहा है। आरोपी गुरुवार को भी पुलिस गिरफ्त में नहीं आ सका।

-घटना की सूचना पाकर मौके पर सीसीआर डीएसपी रजत मणि बाखला, सिटी डीएसपी अजय कुमार सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी और पुलिस बल ने अजय सिंह के सेक्टर 9 स्ट्रीट 1 के आवास में छापेमारी कर तीन देसी पिस्टल, एक कार्बाइन और काफी संख्या में गोलियां बरामद की है।

-पुलिस के अनुसार, बुधवार को रात में अजय सिंह की पत्नी अंतर्राष्ट्रीय तीरंदाज एंजेला सिंह के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ था।
-इसके बाद एंजेला घर छोड़कर बाहर चली गई। अजय सिंह अपनी पत्नी को तलाशते हुए सेक्टर 9 के स्ट्रीट 3 पहुंचे और वहां से उसे घर ले जाने लगे।
-इस बीच एक बार फिर से दोनों के बीच कहा सुनी हो गई। इतने में अजय सिंह और एंजेला सिंह के पारिवारिक मित्र सुनील गुप्ता और अमरेंद्र सिंह उर्फ अप्पू वहां पहुंच गए और बीच-बचाव करने लगे।

-इसी दौरान गुस्से में आकर अजय सिंह ने दोनों पर पिस्टल से फायरिंग कर दी। इस घटना में सुनील को सिर में गोली लगी और अमरेंद्र की जांघ में।
-घटना के बाद अजय सिंह ने सुनील को अस्पताल पहुंचाया और जैसे ही वहां डॉक्टर्स ने बताया कि सुनील की मौत हो चुकी है, अजय वहां से फरार हो गया।
-प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, अजय सिंह अॉल्टो कार से भागा। पुलिस ने वायरलेस पर सूचना प्रसारित कर दी। इसके बाद पुलिस ने अॉल्टो कार का पीछा करना शुरू किया। मगर कुछ पता नहीं चला।
-वहीं, पुलिस ने रात में ही अॉल्टो कार को अजय के पैतृक निवास जरीडीह प्रखंड के अराजू गांव से बरामद कर लिया। यहां से अजय के भाई राजेश और सेक्टर-9 के आवास से पत्नी एंजेला को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।
-फिलहाल पुलिस अजय सिंह की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। एसपी कार्तिक एस इस घटना को पारिवारिक विवाद में जान पहचान के लोगों के बीच-बचाव में समझाने के दौरान गोली चलने की बात मान रहे हैं।

-पुलिस अजय सिंह के घर से मिले हथियारों को लेकर भी जांच कर रही है। अजय वर्ष 2005 के विधानसभा चुनाव में आजसू के टिकट से चुनाव लड़ चुका है।
-पिछले चुनाव में वे तृणमूल कांग्रेस से चुनाव लड़ा था। अजय को पूर्व डिप्टी सीएम सुदेश महतो का करीबी भी बताया जाता है।

X
रोते-बिलखते मृतक के परिजन।रोते-बिलखते मृतक के परिजन।
Astrology

Recommended

Click to listen..