--Advertisement--

निगम के ट्रेक्टर ड्राइवर की मौत के बाद परिजन को नहीं मिला मुआवजा, पत्नी ने निगम में स्टोर में किया हंगामा

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2018, 10:27 AM IST

निगम के ट्रेक्टर ड्राइवर की मौत के बाद परिजन को नहीं मिला मुआवजा, पत्नी ने निगम में स्टोर में किया हंगामा

प्रदर्शन करते बंद समर्थक। प्रदर्शन करते बंद समर्थक।

कोडरमा(झारखंड)। जिला कांग्रेस प्रभारी शंकर यादव के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार को कांग्रेस समेत अन्य राजनीति दलों ने बंद बुलाया। इस दौरान झुमरी तिलैया की कई दुकानें स्वत बंद कर दी गई। इस दौरान पुलिस ने 76 बंद समर्थकों को हिरासत में भी ले लिया। शाम में उन्हें छाेड़ दिया गया।

-सुबह से ही कांग्रेस समेत अन्य राजनीति दलों के सदस्य बंद के समर्थन में सड़क पर उतर आए और दुकानें बंद करानी शुरू कर दी। हालांकि कई दुकानदारों ने स्वत ही शॉप की शटर बंद कर दी।
-बताते चलें कि मंगलवार की शाम विस्फोट कर कांग्रेस जिलाध्यक्ष शंकर यादव की हत्या करने के बाद घटनास्थल से कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन को शव उठाने से रोक दिया था।
-बुधवार को हजारीबाग डीआईजी भीमसेन टूटी घटना स्थल पर पहुंचे और उन्होंने पूर्व की घटना में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

ऐसे हुई थी हत्या
-बताते चलें कि चंदवारा थाना क्षेत्र में सलहरा रोड पर पत्थर खदान के पास अपराधियों ने मंगलवार शाम रिमोट कंट्रोल से ऑटो में विस्फोट कर कोडरमा के कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव की स्कॉर्पियो उड़ा दी थी।
-इसमें शंकर यादव (55) और उनके निजी बॉडीगार्ड कृष्णा यादव (40) की मौत हो गई। ड्राइवर धर्मेंद्र यादव (35) गंभीर रूप से घायल हैं। घटना का कारण माइंस विवाद बताया जा रहा है।
-शंकर यादव झुमरी तिलैया के ढाब थाम स्थित अपने क्रशर से लौट रहे थे। शाम करीब चार बजे जैसे ही वे पत्थर खदान के पास पहुंचे, वहां घात लगाए अपराधियों ने ऑटो में विस्फोट कर दिया।
-ऑटो के परखच्चे उड़ गए। स्कॉर्पियो हवा में करीब 15 फीट उछलकर पलट गई। शंकर यादव की मौके पर ही मौत हो गई।
-कृष्णा यादव और धर्मेंद्र यादव को सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान कृष्णा ने दम तोड़ दिया।

X
प्रदर्शन करते बंद समर्थक।प्रदर्शन करते बंद समर्थक।
Astrology

Recommended

Click to listen..