--Advertisement--

झाविमो नेता हत्याकांड: दोषियों को उम्रकैद की सजा, 10-10 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया

कोर्ट ने इस हत्याकांड में सुनवाई के दौरान बुधवार को ही आरोपी रमेश प्रमाणिक और पिंटू प्रमाणिक को दोषी करार दिया था

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 01:09 PM IST
तिलो सरदार की तस्वीर के साथ पत्नी सुनीता। तिलो सरदार की तस्वीर के साथ पत्नी सुनीता।

जमशेदपुर(झारखंड)। साढ़े 5 साल बाद गुरुवार को झाविमो(झारखंड विकास मोर्चा) नेता तिलो सरदार हत्याकांड में कोर्ट ने दो दोषियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। दोनों पर कोर्ट ने 10-10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। जिला जज-13 प्रभाकर सिंह की अदालत ने इस हत्याकांड में सुनवाई के दौरान बुधवार को ही आरोपी रमेश प्रमाणिक और पिंटू प्रमाणिक को दोषी करार दिया था। इस मामले के एक अन्य आरोपी करमू प्रमाणिक को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया गया था।

गोली मारकर की गई थी हत्या

घटना सात नवंबर 2012 की रात नौ बजे की है। घटना की रात तिलो सरदार अपने घर के सामने बैठे थे। तभी दोनों आरोपी बाइक से पहुंचे और तिलो सरदार को गोली मारकर गंभीर रूप से जख्मी कर वहां से फरार हो गए थे। इलाज के दौरान तिलो सरदार की मौत हो गई थी। मामले में कुल 12 लोगों की गवाही हुई थी।

परिवार पर लगातार हमला किया गया: सुनीता सरदार
तिलो सरदार की पत्नी सुनीता सरदार ने कहा कि पति को मारने वाले कभी नहीं चाहते थे कि उसका परिवार तिलो भट्टा में रहे। उनके परिवार पर लगातार हमला किया गया। गाड़ियां जला दी गईं। कई बार जान से मारने की धमकी मिली। सुनीता ने कहा कि उनके पति सामाजिक कार्यकर्ता थे। उनकी सामाजिक जिंदगी थी।

X
तिलो सरदार की तस्वीर के साथ पत्नी सुनीता।तिलो सरदार की तस्वीर के साथ पत्नी सुनीता।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..