Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Naxals Torched Mobile Tower In Giridih, Posters Recovered

राज्य में नक्सली बंदी का जोरदार असर पलामू, गुमला, जमशेदपुर रूट की गाड़ियां नहीं निकली, परेशान रहे लोग

राज्य में नक्सली बंदी का जोरदार असर पलामू, गुमला, जमशेदपुर रूट की गाड़ियां नहीं निकली, परेशान रहे लोग

Santosh Choudhry | Last Modified - Dec 20, 2017, 10:43 AM IST

रांची/गिरिडीह (झारखंड)। नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के एकदिवसीय बंद का जोरदार असर बुधवार को देखा गया। राज्य के कई हिस्सों में लंबी दूरी की गाड़ियां नहीं चलीं। वहीं गिरिडीह जिले के मधुबन थाना क्षेत्र में नक्सलियों ने कई पोस्टर चिपकाए, जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। वहीं मीरजाडीह गांव में नक्सलियों ने एक मोबाइल टावर को भी उड़ा दिया। इधर चाईबासा में 10-10 किलो के पांच बम बरामद किए गए हैं। घटना की जांच जारी...

- गिरिडीह के एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मीरजाडीह गांव में बीती रात एयरटेल-वोडाफोन के संयुक्त मोबाइल टावर को डैमेज करने की कोशिश की गई है।

- पुलिस इसे असमाजिक तत्वों द्वारा की गई करतूत मान रही है। हालांकि स्थानीय इसमें नक्सलियों का हाथ मान रहे हैं। मामले की पूरी जांच की जा रही है।

क्या लिखा है पोस्टरों में

- गिरिडीह से बरामद नक्सल पोस्टरों में लिखा है, " बूढ़ा पहाड़ इलाके में हो रही गोलीबारी के खिलाफ 18-19 दिसंबर विरोधी दिवस और 20 दिसंबर को 24 घंटे की बंदी को सफल बनाएं। "

- "बूढ़ा पहाड़ सहित तमाम जगहों पर हो रहे बर्बर सैनिक अभियान के खिलाफ व्यापक जनता गरज उठें।"

- "मौजूदा फासीवादी आक्रमण के खिलाफ तमाम प्रगतिशील व जनवादी शक्तियां फासीवाद विरोधी संयुक्त मोर्चा में शामिल हो जाएं।"

- "माओवादी को खत्म करने के नाम पर बूढ़ा पहाड़ सहित झारखंड के तमाम जगहों पर पुलिसिया दमन के खिलाफ व्यापक जनता एक हो।"

सीरिज में लगे थे बम, सुरक्षा बलों ने किया डिफ्यूज

- चाईबासा जिले के कराईकेला थाना क्षेत्र स्थित पोड़ाहाट जंगल से बुधवार की सुबह सुरक्षा बलों ने सीरिज में लगे पांच आईईडी बमों को बरामद किया है।

- सीआरपीएफ के कमांडेंट अरुण झा ने बताया कि 10-10 केजी के पांच बम बरामद किए गए हैं। ये बम सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने की नियत से सीरिज में लगाए गए थे। बमों को कराईकेला थाना क्षेत्र में सड़क के नीचे ये बम लगाए गए थे।

- सुरक्षा बलों ने सभी बमों को डिफ्यूज कर दिया है। पुलिस फोर्स नक्सली बंदी के दौरान पेट्रोलिंग पर थी, इसी दौरान ये बम मिले।

रांची से नहीं खुली बसें, आम जनता परेशान

- इधर, बुधवार को सुबह में पलामू, जमशेदपुर, गुमला, हजारीबाग के लिए रांची से खुलने वाली एक भी बस नहीं खुलीं। सभी बस स्टैंड में ही खड़ी रही।

- इससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। वही उधर से आने वाली गाड़ियां भी रांची नहीं आईं।

- नक्सलियों की बंदी की वजह से कुडू, लोहरदगा, चंदवा, खूंटी, मुरहू, सिमडेगा, बुंडू तमाड़ क्षेत्र में भी दुकानें बंद हो गईं।

- रेलवे ट्रैक पर अलर्ट घोषित कर दिया गया है , ताकि नक्सली अपने मकसद में कामयाब न हो सकें।

- इधर पुलिस की ओर से सभी थाना को अलर्ट पर रखा गया है पेट्रोलिंग लगातार की जा रही है। इसके बावजूद ग्रामीण इलाकों की अधिकतर सड़कें सुनसान हैं।

- रामगढ़ जिले के रजरप्पा और उरीमारी में नक्सलियों की बंदी से कोयला ढुलाई प्रभावित हुआ है। कई जगहों पर ढुलाई का काम ठप रहा।

फोटो : नितिन चौधरी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: nksli bandi : mobile taavr uड़aayaa, kee jgah chipkae posters, IED bm braamd
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×