--Advertisement--

राज्य में फुटवेयर डिजायन और डेवलपमेंट इंस्टीच्युट खोलने का प्रस्ताव केन्द्र को भेजा,मंत्री ने स्वीकृत करने का आग्रह किया

राज्य में फुटवेयर डिजायन और डेवलपमेंट इंस्टीच्युट खोलने का प्रस्ताव केन्द्र को भेजा,मंत्री ने स्वीकृत करने का आग्रह किया

Danik Bhaskar | Jan 09, 2018, 03:02 PM IST
नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने

रांची। झारखंड में बहुत जल्द फुटवेयर डिजायन और डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट खुलेगा। उद्योग विभाग ने केन्द्रीय उद्योग मंत्रालय को इसका प्रस्ताव भेजा है। नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने दिल्ली में हुए काउंसिल फॉर ट्रेड डेवलपमेंट एंड प्रमोशन द्वारा आयोजित बैठक में केन्द्रीय मंत्री से फुटवेयर इंस्टीट्यूट की स्वीकृति देने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि फुटवेयर इंस्टीट्यूट खुलने से हजारों बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने इज ऑफ डूइंग बिजनेस मॉडल तैयार किया है। कई पॉलिसी बनाई गई है, ताकि उद्योगपतियों को किसी तरह की परेशानी न हो।

राज्य में ही निर्यात की व्यवस्था करने की मांग
बैठक में मंत्री ने कहा कि झारखंड में उत्पादित वस्तुओं के निर्यात के लिए कोई ठोस व्यवस्था नहीं है। वर्तमान में झारखंड के नजदीक के बंदरगाह कोलकाता, हल्दिया और ओड़िसा के पारादीप बंदरगाह से वस्तुओं का निर्यात किया जाता है। झारखंड के उत्पाद को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य में ही निर्यात की व्यवस्था करने की मांग की गई। उन्होंने कहा कि कृषि और कृषि आधारित उत्पाद में राज्य का महत्वपूर्ण स्थान है। दलहन, तिलहन, मसाला, सब्जी का निर्यात दूसरे राज्यों में किया जाता है। इस उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए झारखंड फूड प्रोसेसिंग पॉलिसी 2015 और झारखंड फीड प्रोसेसिंग पॉलिसी 2015 लागू किया गया है। उन्होंने कृषि उत्पाद को बढ़ावा देने के लिए स्पाइस बोर्ड, इंडियन ऑयल सीड्स एंड प्रोड्यूस एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, एग्रीकल्चर डेवलपमेंट अथॉरिटी का कार्यालय झारखंड में खोलने की मांग की। इसके अलावा उन्होंने हस्तकरघा एवं लघु वनोपज उत्पादों के उत्पादन को बढ़ावा और मार्केटिंग के लिए कारपेट एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल फॉर हैंडीक्रॉफ्ट, हैंडलूम एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल का कार्यालय झारखंड में खोलने की मांग उठाई।

फोटो: संतोष चौधरी।