सीएए / विरोध में निकाला मशाल जुलूस तो समर्थन में निकली रैली से संदेश- नागरिकता कानून से किसी को नुकसान नहीं

हिंदपीढ़ी से निकाला गया मशाल जुलूस। हिंदपीढ़ी से निकाला गया मशाल जुलूस।
सीएए के समर्थन में निकाली गई रैली। सीएए के समर्थन में निकाली गई रैली।
X
हिंदपीढ़ी से निकाला गया मशाल जुलूस।हिंदपीढ़ी से निकाला गया मशाल जुलूस।
सीएए के समर्थन में निकाली गई रैली।सीएए के समर्थन में निकाली गई रैली।

  • सीएए कानून बनने के बाद रांची में इसके विरोध और समर्थन में जुलूस निकलना जारी हैं
  • मशाल जुलूस में सीसीए, एनपीआर और एनआरसी के विरुद्ध दिखाई एकजुटता

दैनिक भास्कर

Jan 18, 2020, 03:35 AM IST

रांची. नागरिकता कानून के विरोध और समर्थन में जुलूस निकाले गए। हिंदपीढ़ी से निकाले गए जुलूस में सीएए का विरोध किया गया। वहीं, इसके समर्थन में निकाली गई रैली से यह संदेश दिया गया कि इस कानून से किसी धर्म को नुकसान नहीं है।

विरोध में मशाल जुलूस

सीसीए, एनपीआर और एनआरसी के विरुद्ध लोगों को एकजुट करने के लिए हिंदपीढ़ी से देर शाम एक मशाल जुलूस निकाला गया। जुलूस में शामिल लोग रास्ते में लोगों को जोड़ते गए, जिससे बड़ी संख्या में लोग शामिल हो गए। जुलूस निज़ाम नगर, मुजाहिद नगर, खेत मोहल्ला और सेंट्रल स्ट्रीट भी गया। मौके पर शकील हबीबी, डॉ. तारीक़ हसन, जावेद अख्तर, मारवाड़ी कॉलेज छात्र संघ के अध्यक्ष मोहम्मद अमजद, मोहम्मद नकीब मिंटू, मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद अनवर आदि मौजूद थे।

समर्थन में निकाली गई रैली

रांची में पिछले कई दिनों से सीएए के विरोध में होने वाले कार्यक्रम के बाद शुक्रवार को राष्ट्रीय मोर्चा के बैनर तले रांची के विभिन्न क्षेत्रों में समर्थन में कार्यक्रम किए गए। पिस्का मोड़ सहित 14 स्थानों पर टुकड़े-टुकड़े गैंग का पुतला दहन किया। कहा गया कि सीएए से देश के किसी धर्म या जाति को कोई नुकसान नहीं है। भ्रम में न रहें, यह हमारे देश के विकास के लिए लागू की गई है न कि देश को बर्बाद करने के लिए। मौके पर लाल ऋषि नाथ शाहदेव, उत्तम यादव, सुजीत सिंह, निशांत यादव, ब्रजेश कुमार, अनुराग कुमार आदि उपस्थित थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना