झारखंड / 15 फीट ऊंची दीवार फांदकर बाल कैदी रिमांड हाेम से भागा, हत्या समेत आधा दर्जन मामलों में बंद था

घटना ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। घटना ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।
X
घटना ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।घटना ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

  • मंगलवार की देर शाम जवानों के सामने से भाग निकला कैदी, पुलिस देखती ही रह गई
  • पुलिस की किरकिरी होने पर अफसरों ने कई जवानों को बाल कैदी को ढूंढने में लगाया

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 05:22 AM IST

रांची. हत्या, आर्म्स एक्ट और चाेरी समेत आधा दर्जन कांड को अंजाम देने के आरोप में पकड़ा गया बाल कैदी मंगलवार की देर शाम करीब साढ़े छह बजे डुमरदग्गा स्थित बाल सुधार गृह से फरार हो गया। वाॅलीबाॅल नेट के सहारे वह सुधार गृह की करीब 15 फीट ऊंची दीवार से फांदकर भागने में सफल रहा। पुलिस के जवानों के सामने से ही वह भाग निकला लेकिन पुलिस उसे पकड़ न सकी।


अफसरों को सूचना मिलने के बाद आनन-फानन में रांची पुलिस के कई जवानों को बाल कैदी को ढूंढने में लगा दिया गया। पुलिस उसे रिमांड हाेम के आस-पास स्थित दुकान, घराें के समीप आिद जगह खाेजती रही लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चल पाया। घटना के संबंध में सदर डीएसपी दीपक कुमार पांडे ने बताया कि बाल कैदी हत्या, चाेरी और आर्म्स एक्ट समेत आधा दर्जन कांड में शामिल रहा है। उसे 5 दिसंबर 2019 काे रिमांड हाेम भेजा गया था। 


सदर डीएसपी ने यह भी बताया कि देर शाम उसने वॉलीबाॅल खेलने के लिए इस्तेमाल हाेने वाले नेट काे बाल सुधार गृह के बाउंड्रीवॉल के सहारे लगे कंटीले तार से फंसा दिया और वहां से छलांग लगाकर सड़क की ओर फरार हाे गया। भागने के दाैरान जवान की नजर उसपर पड़ी। इसके बाद वह शाेर मचाते हुए उसके पीछे भागा लेकिन तबतक वह किधर भागा कुछ पता नहीं चल पाया। उन्होंने कहा कि कोई बाल कैदी इतनी ऊंची बॉन्ड्री वॉल को फांदकर भाग सकता है इसकी किसी ने कल्पना नहीं की थी। उसे पकड़ने के लिए अभियान तेज किया जाएगा।

बाल कैदी का आपराधिक इतिहास

  • जगरनाथपुर थाना क्षेत्र में हुए लखन यादव हत्याकांड में शामिल रहा है। पकड़े जाने के बाद पुलिस की पूछताछ में उसने हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की थी। 
  • पुंदाग थाना क्षेत्र स्थित सेल सिटी से हुई बाइक चाेरी की घटना में वह शामिल रहा है। 
  • जाेन्हा थाना क्षेत्र में स्कूटी लूट की घटना में शामिल रहा है। 
  • दशम फाॅल थाना क्षेत्र में बाइक चाेरी और अवैध हथियार के साथ पकड़ा गया था।  
  • इसके अलावा वह अन्य वारदातों में भी शामिल रहा है लेकिन इनमें उसके खिलाफ केस दर्ज नहीं हैं।

एसएसपी ने ढाई माह पहले यहांं का किया था निरीक्षण

रांची एसएसपी अनीश गुप्ता ने ढाई माह पहले ही रिमांड होम का निरीक्षण किया था। इस दौरान उन्होंने वहां रखे गए रजिस्टर व सुरक्षा व्यवस्था की जांच की थी। जवानों को बाल कैदियों पर नजर रखने और मुस्तैदी से ड्यूटी पूरी करने का निर्देश दिया था लेकिन बाल कैदी के भागने की घटना ने यह साबित कर दिया कि यह जांच महज दिखावा ही था।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना