--Advertisement--

प्रेसवार्ता / नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर राज्यभर में कांग्रेस का धरना-प्रदर्शन



प्रेसवार्ता के दौरान  प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव व अन्य। प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव व अन्य।
X
प्रेसवार्ता के दौरान  प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव व अन्य।प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव व अन्य।

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 06:27 PM IST

रांची. नोटबंदी के दो वर्ष पूरा होने पर राजधानी रांची समेत पूरे राज्य में कांग्रेस ने धरना प्रदर्शन कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा लिए गए नोटबंदी के निर्णय को आजाद भारत के अब तक के सबसे बड़ा संगठित लूट की संज्ञा दी। राजधानी में रांची महानगर कांग्रेस के अध्यक्ष संजय पांडेय के नेतृत्व में जुलूस निकाल कर धरना प्रदर्शन किया गया और आरबीआई के समक्ष केंद्र सरकार का पुतला दहन किया गया। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव ने बताया कि राज्य के सभी जिलों में नोटबंदी के खिलाफ आज का आंदोलन काफी सफल रहा। इसमें जनता का भरपूर सहयोग एवं समर्थन पार्टी को प्राप्त हुआ।

पूछा सवाल, नोटबंदी से किसको मिला लाभ

  1. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के दो वर्ष पूरा होने पर देश के सामने सबसे बड़ा सवाल यह है कि नोटबंदी से किसको लाभ मिला। प्रधानमंत्री को अपनी चुप्पी तोड़कर इसका जवाब देना चाहिए। नोटबंदी के समय प्रधानमंत्री के द्वारा जिन विषयों के कारण नोटबंदी को बताया गया था और उससे होने वाले फायदे गिनाए गये थे, उनमें प्रमुख कालाधन था। इसके अलावा उन्होंने कहा था कि नकली नोट पकड़े जाएंगे या प्रचलन से बाहर हो जाएंगे, आतंकवाद, उग्रवाद पर रोक लगेगा, भ्रष्टाचार समाप्त होगी। प्रधानमंत्री के द्वारा उठाए गये इस निर्णय को देश की जनता कभी भूल नहीं पाएगी। 08 नवम्बर 2016 के दिन देश को आर्थिक संकट में ढकेलने वाला दिन था। पीएम मोदी व भाजपा के द्वारा नोटबंदी के जो फायदा बताया गया उनमेें से कोई पूरा नहीं हुआ।

  2. कांग्रेस भवन से निकाला गया जुलूस

    इससे पूर्व महानगर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा महानगर अध्यक्ष के नेतृत्व में कांग्रेस भवन से जुलूस निकाला गया और आरबीआई कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और वित्त मंत्री अरूण जेटली का पुतला फूंका गया। प्रदर्शन के दौरान उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि आलमगीर आलम ने कहा कि 8 नवंबर 2016 का दिन देश के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज हो गया है। काला धन निकालने के नाम पर देश की जनता को परेशान किया गया। इस अवसर पर अपने संबोधन के दौरान महानगर अध्यक्ष संजय पांडे ने कहा कि 2 वर्ष पूर्व हुए नोट बंदी की मार से अभी भी देश की जनता कराह रही है। देश के आईटी सेक्टर पावर सेक्टर समेत कई सेक्टर पटरी पर नहीं आ पायी है। पिछले वर्ष से लेकर अभी तक बेरोजगारों की संख्या डेढ़ करोड़ से बढ़कर लगभग तीन करोड़ के करीब पहुंच गई है। बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन करने वाले छोटे व मझोले उद्योग नोटबंदी की मार से अभी तक उबर नहीं पाए हैं। इस अवसर पर सभा को रविंद्र सिंह, आलोक कुमार दुबे लाल, किशोर नाथ शाहदेव ने भी संबोधित किया।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..