• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • Ranchi - जनवरी से वाटर सप्लाई योजना का काम, 14 जलमीनार बनेंगी
--Advertisement--

जनवरी से वाटर सप्लाई योजना का काम, 14 जलमीनार बनेंगी

राजधानी में अमृत प्रोजेक्ट के तहत वाटर सप्लाई स्कीम पर जनवरी 2019 से काम शुरू होने की संभावना है। नगर विकास विभाग के...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 04:00 AM IST
राजधानी में अमृत प्रोजेक्ट के तहत वाटर सप्लाई स्कीम पर जनवरी 2019 से काम शुरू होने की संभावना है। नगर विकास विभाग के निर्देश पर जुडको ने शहरी क्षेत्र के जोन वन और जोन टू को एक साथ जोड़कर टेंडर निकाला है। कुल 264 करोड़ रुपए की लागत से वाटर सप्लाई योजना पर काम होना है। 9 अक्टूबर को टेंडर खुलेगा। इसमें किसी कंपनी का चयन होता है तो नवंबर से सप्लाई पाइपलाइन बिछाने और जलमीनार बनाने के स्थल पर सर्वे और लाइनिंग का काम शुरू हो जाएगा। जनवरी से जलमीनार बनाने का काम शुरू हो जाएगा। नगर विकास विभाग ने 2 साल में वाटर सप्लाई योजना को धरातल पर उतारने का लक्ष्य रखा है। यानी दिसंबर 2020 तक राजधानी के प्रत्येक घर में सप्लाई पानी पहुंच सकता है। यह योजना तय समय पर धरातल पर उतरती है तो शहर के 2 लाख से अधिक घरों को सप्लाई पाइपलाइन से जोड़ा जाएगा। वर्तमान में आधा शहर में सप्लाई पाइपलाइन नहीं है। रातू रोड, लालपुर, वर्धमान कंपाउंड, हरमू, मधुकम सहित अन्य क्षेत्रों में वाटर सप्लाई पाइपलाइन बिछी हुई है, लेकिन प्रेशर के साथ पानी नहीं पहुंचता। क्योंकि जलमीनार की संख्या काफी कम है।

शहर के लोगों को 2050 तक पानी पिलाने के लिए सभी वार्डों को जोन वाइज बांटा गया है। कुल 36 जोन बनाकर सप्लाई पाइपलाइन का नेटवर्क बिछाया जाएगा। सभी गली मुहल्लों तक डिस्ट्रीब्यूशन लाइन बिछेगी। वर्तमान और प्रस्तावित डिस्ट्रीब्यूशन लाइन 858 किलोमीटर हो जाएगी। वर्तमान में 22 जल मीनार से पानी की आपूर्ति हो रही है। इससे हमेशा लो प्रेशर बना रहता है। 14 नई जलमीनार बनने से कुल 36 जोन हो जाएंगे। इससे लो प्रेशर की समस्या दूर हो जाएगी।