विरोध / रसोइया संघ ने किया प्रदर्शन, बिरसा चौक पर हंगामा, कई गाड़ियां जाम में फंसी

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 11:53 AM IST



पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई। पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई।
रातू रोड चौराहे पर लगा जाम। रातू रोड चौराहे पर लगा जाम।
लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक नामकुम के पास रसोईया संघ को बलपूर्वक हटाया गया। लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक नामकुम के पास रसोईया संघ को बलपूर्वक हटाया गया।
X
पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई।पुलिस के साथ प्रदर्शनकारियों की नोकझोंक भी हुई।
रातू रोड चौराहे पर लगा जाम।रातू रोड चौराहे पर लगा जाम।
लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक नामकुम के पास रसोईया संघ को बलपूर्वक हटाया गया।लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक नामकुम के पास रसोईया संघ को बलपूर्वक हटाया गया।

  • 12 अक्टूबर को वार्ता का आश्वासन मिला, पर इसपर कोई पहल नहीं होने पर किया सड़क जाम

रांची. झारखंड प्रदेश विद्यालय रसोइया, संयोजिका संघ ने शनिवार को रांची के कई प्रमुख चौक-चौराहों को जाम कर दिया। रातू रोड चौराहे पर लंबा जाम लग गया। प्रदर्शनकारी महिलों की पुलिस के साथ नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद यहां से प्रदर्शनकारियों को हटाया।

 

कार ने कुचला, दो महिला जख्मी: इधर, नामकुम, कचहरी रोड, रेडियम रोड, हरमू बाइपास, बरियातू रोड और एमजी रोड इस प्रदर्शन से प्रभावित हुए हैं।  वहीं,बिरसा चौक पर रसोइया संघ की प्रदर्शनकारी महिलाओं को कार ने कुचल दिया। इससे दो महिला जख्मी हो गईं।

 

25 सितंबर से राजभवन के पास धरना दे रहे सदस्य: संघ के अध्यक्ष अजीत प्रजापति ने बताया कि सरकार उनकी मांगों को लेकर गंभीर नहीं है। संघ के सदस्य 25 सितंबर से राजभवन के पास धरना दे रहा है। 9 अक्टूबर को मुख्यमंत्री आवास के घेराव के लिए निकले सदस्यों पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। इसके बाद 12 अक्टूबर को वार्ता का आश्वासन मिला। पर इसपर कोई पहल नहीं की गई।

 

ये है मांग: संघ के मुख्य मांगों में स्कूलों से हटाई गई रसोइयों को विद्यालय में वापस रखने, तमिलनाडु की तर्ज पर संयोजिका रसोइया को फोर्थ ग्रेड में शामिल करने, न्यूनतम 18 हजार रुपए प्रतिमाह मानदेय देने, विद्यालयों के विलय का निर्णय वापस लेने, दस माह की जगह पूरे साल का मानदेय देने जैसी डिमांड शामिल हैं।

COMMENT