कोरोना को लेकर अलर्ट / कोरोना प्रभावित देशों से आए संदिग्ध मरीजों की सूचना देने के लिए कंट्रोल रूम का नंबर जारी

रिम्स रांची सहित पांच मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में कुल 102 आइसोलेशन बेड बनाए गए हैं। रिम्स रांची सहित पांच मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में कुल 102 आइसोलेशन बेड बनाए गए हैं।
X
रिम्स रांची सहित पांच मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में कुल 102 आइसोलेशन बेड बनाए गए हैं।रिम्स रांची सहित पांच मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में कुल 102 आइसोलेशन बेड बनाए गए हैं।

  • 9955837428 नंबर पर फोन कर दे सकते हैं संदिग्धों की सूचना, रिम्स में भी कंट्रोल रूम का नंबर 0651-2542720 जारी हुआ
  • राज्य सरकार ने गृह, शिक्षा, पेयजल, पंचायती राज, महिला बाल विकास और कल्याण विभाग को जारी की एडवाइजरी

दैनिक भास्कर

Mar 13, 2020, 01:54 PM IST

रांची. राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के लिए जागरूकता के लिए एक नंबर जारी किया है। गृह, शिक्षा, पेयजल, पंचायती राज, महिला बाल विकास और कल्याण विभाग को नोवेल कोरोना वायरस से बचाव और रोकथाम के लिए जनजागरूकता एडवाइजरी जारी की गई है। स्वास्थ्य सचिव नितिन कुलकर्णी ने विभागीय प्रमुखों को पत्र लिखकर जन जागरूकता से जुड़े कार्यक्रम संचालित करने का आग्रह किया है। 

गृह विभाग, शिक्षा, ग्रामीण विकास, पेयजल स्वच्छता, पंचायती राज, महिला बाल विकास, कल्याण विभाग को भेजे गए पत्र में कहा गया है कि चीन, कोरिया, इटली, ईरान, वियतनाम, जापान, मलेशिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया, थाईलैंड, हांगकांग आदि देशों से आने वाले मरीजों की सूचना प्राप्त होने पर यात्रियों की निगरानी के लिए राज्य तथा जिला सर्विलांस इकाई को सूचित किया जाए। ऐसे देशों से आने वाले मरीजों की 28 दिनों तक देखभाल किया जाना अपेक्षित है।

कोरोना के किसी भी संदिग्ध मरीजों की सहायता के लिए राज्य सर्विलांस इकाई में 24 घंटे कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसका नंबर 9955837428 है। रिम्स में भी कंट्रोल रूम (0651-2542720) काम कर रहा है। रिम्स रांची सहित पांच मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में कुल 102 आइसोलेशन बेड बनाए गए हैं। 301 ए-95 मास्क की व्यवस्था की गई है।

प्रभावित देश...
चीन, कोरिया, इटली, ईरान, वियतनाम, मलेशिया, सिंगापुर, इंडोनेशिया, जापान, थाईलैंड, हांगकांग समेत अन्य देशों से लोग झारखंड आते हैं।

भीड़ न हाे, इसलिए एसडीअाे ने धरना की नहीं दी इजाजत
झारखंड राज्य ई-मैनेजर्स एसोसिएशन द्वारा संविदा विस्तार की मांग को लेकर राजभवन के समीप अनिश्चितकालीन धरना देना था। लेकिन, करोना वायरस को लेकर सदर एसडीओ ने इजाजत नहीं दी। मोरहाबादी में संघ की बैठक हुई। ई-मैनेजर्स के अध्यक्ष सौरभ दुबे ने बताया कि भीड़ के साथ बैठना खतरे को आमंत्रित करने के बराबर है। इसलिए, परमिशन नहीं मिला।

एनडीआरएफ ने किया निरीक्षण
एनडीआरएफ की टीम गुरुवार को रिम्स पहुंची। टीम ने रिम्स में कोरोना वायरस से निपटने के लिए की गई तैयारियों का जायजा लिया। टीम ने पेइंग वार्ड में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड काे भी देखा। निरीक्षण के बाद आपदा प्रबंधन के संयुक्त सचिव मनीष तिवारी ने कहा कि रिम्स राज्य का सबसे बड़ा अस्पताल है। कोरोना के मरीज को इलाज के लिए यहां लाया जाएगा। मरीजों को मिलने वाली जो भी मुख्य समस्याएं थीं, निरीक्षण के दौरान सभी को हाईलाइट किया गया है। उन्होंने बताया कि निरीक्षण के दौरान उन्हें रिम्स में किसी प्रकार की खामियां नहीं मिली।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना