--Advertisement--

दुर्गा पूजा / पंडाल में अग्निश्मन यंत्र नहीं रखने पर होगी कार्रवाई: डीसी



डीसी राय महिमापत रे ने कलेक्ट्रेट में केंद्रीय शांति समिति व दुर्गा पूजा समितियों के साथ बैठक की। डीसी राय महिमापत रे ने कलेक्ट्रेट में केंद्रीय शांति समिति व दुर्गा पूजा समितियों के साथ बैठक की।
X
डीसी राय महिमापत रे ने कलेक्ट्रेट में केंद्रीय शांति समिति व दुर्गा पूजा समितियों के साथ बैठक की।डीसी राय महिमापत रे ने कलेक्ट्रेट में केंद्रीय शांति समिति व दुर्गा पूजा समितियों के साथ बैठक की।
  • डीसी ने कहा- गाइडलाइन का पालन हो रहा है या नहीं, इसकी जांच कराई जाएगी
  •  उन्होंने कहा- नशा कर पंडाल में प्रवेश करने वालों को समिति के वॉलेटियर को रोक लगानी चाहिए
  •  

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 05:46 PM IST

रांची.  पूजा पंडाल में आग से बचाव के लिए अग्निशमन यंत्र रखना होगा, जिस पंडाल में ये नहीं होगा, उस समिति पर कार्रवाई की जाएगी। यह बात डीसी राय महिमापत रे ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में केंद्रीय शांति समिति व दुर्गा पूजा समितियों के साथ आयोजित बैठक में कही। उन्होंने कहा कि इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से सभी समितियों को गाइडलाइन जारी कर दिया गया है।


 

डीसी सभी पंडालों का निरीक्षण करेंगे

  1. डीसी ने कहा- गाइडलाइन का पालन हो रहा है या नहीं इसकी जांच कराई जाएगी। डीसी ने कहा कि वे खुद भी सभी पंडालों का निरीक्षण करेंगे। इसके अलावा बड़ा तालाब का निरीक्षण करने की बात भी डीसी ने कही। उन्होंने कहा कि नशा कर पंडाल में प्रवेश करने वालों को समिति के वॉलेटियर को रोक लगानी चाहिए। इससे पूर्व बैठक में महानगर दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष रामधन वर्मा ने कहा कि भीड़ के वक्त पंडाल से सुरक्षा संबंधि घोषणाएं लगातार होंगी।


     

  2. पानी की समस्या न हो

    वहीं, रांची जिला दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष हीरालाल साहू ने कहा कि पूजा के वक्त पीएचईडी विभाग इस बात का विशेष ख्याल रखे की पानी की समस्या न हो। बैठक को ललित ओझा, मनोज खन्ना, राजीव रंजन मिश्रा, ललित ओझा, मो. इस्लाम सहित अन्य लोगों ने भी अपनी बात रखी। वहीं, कई सदस्यों के चले जाने पर बैठक में मौजूद कांके विधायक रामकुमार पाहन ने कहा कि शांति समिति का मतलब सिर्फ अपनी बात कहना नहीं, उसका जवाब भी हासिल करना है। कई सदस्य चले गए, ये ठीक नहीं है। शुरू से अंत तक सबको रहना चाहिए। बैठक में सिटी एसपी अमन कुमार, एसडीओ गरिमा सिंह, एडीएम लॉ एंड ऑर्डर अखलेश कुमार सिन्हा, सेंट्रल मोहर्रम कमेटी के महासचिव अकीलुर्रहमान, अब्दुल खालिक सहित कई लोग मौजूद थे।


     

  3. भड़काऊ गाने पर सख्ती से रहेगी रोक

    बैठक में भड़काऊ गाने पर पूरी तरह से रोक लगाने की बात पर डीसी ने कहा कि इसके लिए जिला प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। समितियों को अपने भजन-गानों की सूची सौंपने का निर्देश दिया जा चुका है। वहीं, श्री महावीर मंडल के अध्यक्ष जयसिंह यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि भड़काऊ गाने, भाषण और नारेबाजी कर अन्य धर्म के लोगों की धार्मिक भावना को ठेस न पहुंचाएं, उन्हें उकसाएं नहीं। इसलिए इस बात का खास ख्याल सभी पूजा समितियों को रखनी होगी।

     

     

  4. 15 अक्टूबर तक विसर्जन स्थल और रूट की मांगी जानकारी

    बैठक में शामिल सभी पूजा समितियों से कहा गया है कि 15 अक्टूबर तक अपने विसर्जन स्थल और रूट की जानकारी मांगी है।  जिला प्रशासन ने पूजा समितियों को दिशा-निर्देश जारी कर कहा है कि पंडाल का निर्माण व जुलूस के मार्ग में यदि मुहर्रम का अखाड़ा (इमामबाड़ा) हो तो अखाड़ा के रास्ते से पर्याप्त दूरी बनाकर पंडाल बनाएं। दरअसल विसर्जन के दौरान किसी प्रकार का विवाद न हो इसको लेकर जिला प्रशासन पूरी तैयारी में है।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..