खुलासा / पत्थर से कूचकर पत्नी और साढ़ू ने की थी अधेड़ की हत्या, दोनों को गिरफ्तार कर भेजा जेल

जानकारी देते हुए थाना प्रभारी। जानकारी देते हुए थाना प्रभारी।
X
जानकारी देते हुए थाना प्रभारी।जानकारी देते हुए थाना प्रभारी।

  • एक सप्ताह के अंदर हत्याकांड का खुलासा, मर्डर कर तालाब में फेंक दिया था शव
  • साढ़ू के साथ अवैध संबंध बनाते पत्नी को पति ने पकड़ा था रंगेहाथ

दैनिक भास्कर

Aug 08, 2019, 05:53 PM IST

गढ़वा. धुरकी थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार ने थाना क्षेत्र के भंडार पंचायत अंतर्गत लिखनी धौरा कदवा गांव के मृत बलकू कोरवा की हत्या के मामले का खुलासा एक सप्ताह के अंदर कर दिया है। इस संबंध मे थाना प्रभारी व एएसाई मनोज सिंह, आलोक कुमार व राजदेव सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि दो अगस्त को लिखनी धौरा कदवा गांव में एक अधेड़ बलकू कोरवा का शव गांव के ही तालाब में मिला था। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी। पुलिस ने सूचना मिलते ही शव को तालाब से निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए गढ़वा भेज दिया था। 

 

पत्नी के बयान पर पुलिस को हुआ था शक
थाना प्रभारी ने मृतक की पत्नी देवंती देवी से पूछताछ की थी। इस दौरान उसने पुलिस को बताया था कि उसके पति अत्यधिक शराब पीते थे इसी कारण उनकी मौत उक्त तालाब में डूबकर हुई है। थाना प्रभारी ने बताया कि उक्त महिला के इस बयान पर पुलिस को शक हुआ। इसके बाद जब ने जांच पड़ताल की तो मामला कुछ और निकला। थाना प्रभारी ने बताया कि मृतक बलकू कोरवा की मौत तालाब में डूबने से नहीं बल्कि उसकी हत्या उसकी पत्नी देवंती देवी ने अपनी छोटी बहन के पति इंद्रदेव कोरवा के साथ मिलकर की थी। इन दाेनाें काे अवैध संबंध बनाते हुए बलकू काेरवा ने देख लिया था। इसी कारण उसकी हत्या पत्नी और उसके साढ़ू ने पत्थर से कूचकर की थी। उसके बाद शव को तालाब में साक्ष्य छुपाने के लिए फेंक दिया था।

 

31 जुलाई की रात दोनों ने घटना को दिया था अंजाम
थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों अभियुक्तों के पूछताछ के दौरान बताया कि 31 जुलाई की रात 11 बजे घटना को दोनों आरोपियों ने मिलकर अंजाम दिया था। 31 जुलाई को बलकू, उसकी पत्नी देवंती व इंद्रदेव तीनों ने साथ में बैठकर शराब पी। इसके बाद घर जाने के क्रम में बलकू ने ज्यादा मात्रा में शराब पी ली। वह चलने में असमर्थ हो गया और पेड़ के नीचे लेट गया। इस दौरान बलकू की पत्नी देवंती और इंद्रदेव शारीरिक संबंध बनाने लगे। थोड़ी देर बाद बलकू ने यह सब देख लिया और दोनों के खिलाफ पंचायती बैठाने की बात कहने लगा। इसपर उसकी पत्नी ने इंद्रदेव से कहा कि अगर इसने घरवालों को सबकुछ बता दिया तो वह किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगी। फिर इसी डर के चलते देवंती ने इंद्रदेव से मिलकर उसकी हत्या का षड्यंत्र रचा। फिर दोनों ने पत्थर से कूचकर बलकू को अधमरा कर दिया और फिर गमछे से गला दबाकर हत्या कर दी। थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों के बीच पिछले दो साल से अवैध संबंध था। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त पत्थर व गमछे को बरामद कर लिया और दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना