अंधविश्वास / महिला तांत्रिक ने भूत-प्रेत का साया बता त्रिशूल घोंप सास को ही मार डाला



पुलिस की गिरफ्त में भक्तिन और उसका पति। पुलिस की गिरफ्त में भक्तिन और उसका पति।
X
पुलिस की गिरफ्त में भक्तिन और उसका पति।पुलिस की गिरफ्त में भक्तिन और उसका पति।

  • संतान नहीं हाेने पर बहू का झाड़फूंक कराने पहुंची थी मृतका

Dainik Bhaskar

Aug 19, 2019, 10:17 AM IST

गढ़वा. रमना थाना क्षेत्र के सपही के बजनवा टाेला में शनिवार देर शाम भक्तिन (अाेझाइन) ने इलाज के नाम पर त्रिशूल घाेंपकर एक वृद्धा की हत्या कर दी। वह अपनी बहू का झाड़फूंक कराने भक्तिन के पास गई थी। बहू काे 15 साल से बच्चा नहीं हाे रहा था। पुलिस ने भक्तिन अालम देवी अाैर उसके पति सत्येंद्र उरांव काे गिरफ्तार कर लिया है। रमना के प्रभारी थानेदार लाल बिहारी रजक ने बताया कि यह अंधविश्वास का मामला है। ग्रामीणाें से पता चला है कि अालम देवी चार साल से झाड़फूंक का काम कर रही थी। भवनाथपुर थाना क्षेत्र के काेनमंडरा निवासी हरिदास उरांव की पत्नी रूदनी देवी (60) भी अपनी बहू गुड्डी देवी का इलाज कराने गई थी, जिसमें उसकी जान चली गई। 
 
बेटे ने कहा-भूत भगाने के नाम पर मां काे घाेंप दिया त्रिशूल 
रूदनी देवी के छाेटे बेटे विनेश उरांव ने कहा-मेरे बड़े भाई दिनेश उरांव की शादी 2004 में हुई थी। 15 साल बाद भी बच्चा नहीं हुअा। गांववालाें ने भक्तिन अालम देवी के पास जाने की सलाह दी। 14 अगस्त काे अालम देवी ने झाड़फूंक के लिए बुलाया। 15 अगस्त काे भाभी गुड्डी देवी काे लेकर पिता हरिदास उरांव, मां रूदनी देवी, विनीता देवी अाैर सीता देवी भक्तिन के पास गए। वहां बताया कि भाभी पर भूत-प्रेत का साया है अाैर 16 अगस्त से इलाज शुरू कर दिया। शनिवार दाेपहर भक्तिन ने मां काे राेक लिया अाैर सभी काे घर भेज दिया। कहा-मां पर भ्ूत का साया है। इसके बाद भूत भगाने के नाम पर उसने मां की अांख, छाती अाैर पैर पर त्रिशूल से वार किए, जिससे मां की माैत हाे गई। 

 

पिछले महीने लातेहार में तांत्रिक ने दे दी थी दाे बच्चाें की बलि 
11 जुलाई काे भी लातेहार के सेमरहाट गांव में तंत्र साधना के नाम पर दाे बच्चाें की बलि दे दी गई थी। 10 साल के निर्मल उरांव अाैर सात साल की शीला कुमारी के सिरकटे शव पड़ाेसी के घर के पास बालू में दबे मिले थे। कुछ दिन बाद सिर मिला था। पुलिस ने अाराेपी काे गिरफ्तार कर लिया है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना