झारखंड / खजाना भरने के लिए महिलाओं के नाम एक रुपए में संपत्ति की रजिस्ट्री बंद करेगी सरकार

मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन (फाइल फोटो) मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन (फाइल फोटो)
X
मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन (फाइल फोटो)मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन (फाइल फोटो)

  • मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन के निर्देश के बाद भू-राजस्व एवं निबंधन विभाग इसका प्रस्ताव बनाने में जुट गया
  • जल्दी ही इसे कैबिनेट की बैठक में लाया जाएगा, कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही यह याेजना बंद हाे जाएगी

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2020, 08:44 AM IST

रांची. झारखंड सरकार अपना खाली खजाना भरने के लिए महिलाअाें के नाम पर 50 लाख रुपए तक की संपत्ति की रजिस्ट्री एक रुपए में करने की याेजना बंद करेगी। मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन के निर्देश के बाद भू-राजस्व एवं निबंधन विभाग इसका प्रस्ताव बनाने में जुट गया है। जल्दी ही इसे कैबिनेट की बैठक में लाया जाएगा। कैबिनेट की मंजूरी मिलते ही यह याेजना बंद हाे जाएगी। इससे सालाना करीब 600 कराेड़ का राजस्व मिलेगा। यह राशि मुफ्त बिजली-पानी देने की याेजना पर खर्च की जाएगी। इसे बंद करने के पीछे तर्क है कि काेई भी गरीब या लाेअर मिडिल क्लास 50 लाख रुपए में जमीन अाैर फ्लैट नहीं खरीदता। निबंधन अधिकारियाें काे मिले फीडबैक में पता चला कि रांची में एक रुपए की रजिस्ट्री का 90 फीसदी फायदा अाईएएस-अाईपीएस अफसर, नेता अाैर बिजनेसमैन उठा रहे हैं। 

31 माह में 1.75 लाख डीड की रजिस्ट्री महिलाअाें के नाम

मुख्यमंत्री ने पिछले दिनाें भू-राजस्व एवं निबंधन विभाग की समीक्षा की थी। इसमें अफसराें ने बताया कि 19 जून 2017 से यह याेजना लागू हुई थी। तब से जनवरी तक 31 महीने में राज्य में करीब 70 फीसदी यानी 1.75 लाख डीड की एक रुपए में रजिस्ट्री हुई। इससे करीब 1300 कराेड़ रुपए का नुकसान हुअा। अगर यह याेजना बंद कर दी जाए ताे सालाना 600 रुपए मिलेंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना