दुमका / सुदूर इलाके के नागरिकों तक विकास की किरण पहुंचाने को लेकर सरकार कृत संकल्पित: राज्यपाल



दुमका के पुलिस लाइन मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने तिरंगा फहराया। दुमका के पुलिस लाइन मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने तिरंगा फहराया।
X
दुमका के पुलिस लाइन मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने तिरंगा फहराया।दुमका के पुलिस लाइन मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने तिरंगा फहराया।

  • द्रौपदी मुर्मू ने कहा- बदलते झारखंड अाैर बढ़ते झारखंड की चर्चा पूरे देश में है

Dainik Bhaskar

Aug 16, 2019, 06:51 PM IST

दुमका. राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि राज्य सरकार सुदूर इलाकों में रहने वाले नागरिकों तक विकास की किरण पहुंचाने के लिए कृत संकल्पित है। सरकार के निरंतर प्रयास से झारखंड, राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अगल पहचान बनाने में सफल रहा है। बदलते झारखंड-बढ़ते झारखंड की पूरे देश में चर्चा हो रही है। राज्यपाल ने 73 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर उपराजधानी दुमका के पुलिस लाईन में आयोजित मुख्य समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और पुलिस, सहायक पुलिस, एनसीसी व स्काउट गाइड के जवानों के परेड की सलामी ली।

 

समृद्ध और खुशहाल झारखंड के लिए एकजुट होने की अपील
इस मौके पर राज्यपाल ने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार राज्य के सभी वर्गों विशेष कर वंचित वर्ग के लोगों तक विकास का लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रही है। उन्होंने राज्यवासियों से समृद्ध और खुशहाल झारखंड के निर्माण के लिए एकजुट होकर प्रयास करने का आह्वान करते हुए राज्य सरकार द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, कृषि और किसानों की समृद्धि के साथ गरीब व आमलोगों के कल्याण के लिए कार्यान्वित विभिन्न विकास योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। 

 

झारखंड देश के तीन अग्रणी राज्य में शामिल
राज्यपाल ने कहा कि केन्द्र प्रायोजित योजना के तहत दुमका में मेडिकल काॅलेज एवं अस्पताल का उद्घाटन किया जा चुका है। इस मेडिकल काॅलेज में 100 एमबीबीएस सीटों के लिए पाठ्यक्रम शुरू करने का प्रयास जारी है। इसके साथ ही देवघर में अगले माह से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की पढ़ाई शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में कार्यान्वित ज्ञान सेतु एवं ई-विद्यावाहिनी योजना के कारण राज्य में शिक्षकों की उपस्थिति में झारखंड देश के तीन अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया है जो महत्वपूर्ण उपलब्धि है।

 

बैद्यनाथ धाम के विकास के लिए 39 करोड़ रुपए की मंजूरी
राज्यपाल ने कहा कि राज्य के विकास में किसानों के योगदान और मेहनत को सम्मान देने के लिए राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कृषि अाशीर्वाद और केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना शुरू की गयी है। इन योजनाओं के माध्यम से राज्य के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान किया जा रहा है। राज्य में सिंचाई की सुविधा विस्तार के उद्धेश्य से संताल परगना में सुंदर जलाशय योजना के मुख्य नहर की लाइनिंग और पुनरुद्धार के लिए 85.54 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गयी है। कमांड क्षेत्र विकास एवं जल प्रबंधन कार्यक्रम के तहत 69.77 करोड़ की लागत से मयूराक्षी बांया तट नहर का कार्य कराया जा रहा है। इस योजना के पूर्ण होने से 9500 हेक्टेयर में हर खेत को ग्रामीण जलवाहा द्वारा सिंचाई की सुविधा मुहैया कराया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के प्रसाद योजना के तहत संताल परगना के बैद्यनाथ धाम देवघर के विकास के लिए 39 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गयी है। इससे बैद्यनाथ धाम मंदिर और उसके आसपास के क्षेत्रों का समुचित विकास किया जायेगा। 

 

पहली से पांचवीं कक्षा तक संताली भाषा में पुस्तकें
उन्होंने कहा कि संताली भाषा में पढ़ाई को प्रोत्साहित करने के लिए संताल बहुल क्षेत्र के विद्यालयों में पहली से पांचवीं कक्षा तक की पुस्तकें संताली भाषा में उपलब्ध करायी जा रही है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने संताली भाषा के शिक्षकों की नियुक्ति करने का निर्णय लिया है। राज्य के सभी उपायुक्तों को संताली भाषा की लिपि ओल चिकी में सभी विद्यालय और भवनों का नाम लिखने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्णय और अनुरोध के आलोक में रेल मंत्रालय ने संतालपरगना क्षेत्र में अवस्थित रेलवे स्टेशनों में संताली भाषा में सूचना प्रसारित कराने का निर्णय लिया है। अब संताली भाई-बहन रेलवे स्टेशनों में संताली भाषा में रेल से संबंधित सूचना सुन सकेंगे। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना