पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पीएलएफआई का पूर्व एरिया कमांडर हथियार के साथ गिरफ्तार, दर्ज हैं 14 मामले

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते थानेदार।
  • मंगलवार देर शाम एक युवक को मारी थी गोली, कुछ घंटे बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • जेल से निकलकर चला रहा था अपना गिरोह, दो लोडेड देशी बंदूक के साथ गोली बरामद

गुमला. सदर थाना क्षेत्र के कोयंजारा में गोली मारने की घटना को अंजाम देने के बाद पीएलएफआई का पूर्व एरिया कमांडर संजय टाइगर फिर से किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में था। इससे पहले पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर उसे गिरफ्तार कर लिया। संजय के साथ उसके चचरे भाई संजीव गोप को भी पकड़ा गया है। दोनों के पास से हथियार बरामद किए गए हैं। संजय टाइगर ने पीएलएफआई में रहते हुए कई बड़ी वारदात को अंजाम दिया था। संजय पर विभिन्न थानों में 14 केस दर्ज हैं। पांच माह पूर्व ही जेल से निकलने के बाद वह अपना गिरोह बनाकर दहशत का माहौल कायम करने में जुटा था। बुधवार को आयोजित प्रेसवार्ता में थाना प्रभारी शंकर ठाकुर ने इसकी जानकारी दी। 
 

अपराधियों के जुटने की मिली थी खबर: थाना प्रभारी
थाना प्रभारी शंकर ठाकुर ने बताया कि मंगलवार देर रात्रि जानकारी हुई कि कुछ अपराधकर्मी केसीपारा में स्कूल के पास जुटे हुए हैं। उनके पास हथियार है और किसी घटना की प्लानिंग कर रहे हैं। सूचना के बाद छापामारी दल का गठन किया गया। टीम मौके पर पहुंची, तो अपराधी भागने लगे। फिर पुलिसकर्मियों ने दौड़कर दो अपराधियों को पकड़ लिया। पूछताछ में दोनों ने अपना नाम संजय गोप उर्फ संजय टाइगर और संजीव गोप उर्फ संजू गोप उर्फ काड़ा बताया। इस दौरान तलाशी में पुलिस को दो लोडेड देशी पिस्तौल, 315 बोर की गोली भी बरामद की गई। 
 

मंगलवार को मेला के वोलेंटियर को भरी भीड़ में मारी थी गोली 
थाना प्रभारी ने बताया कि मंगलवार की देर शाम लगभग 5:30 बजे कोयंजारा गांव में डाईर मेला का आयोजन हुआ था। लहां रंगारंग नागपुरी सांस्कृतिक कार्यक्रम चल रहा था। जिसमें संजय टाइगर अपने चार-पांच साथी संजीव गोप, दिलीप महतो, कर्ण गोप व श्रवण गोप के साथ स्टेज में जाकर नाचने लगा। इस दौरान वोलेंटियर कार्तिक महतो ने उनलोगों को स्टेज से उतरने का आग्रह किया, तो संजय टाइगर के साथियों ने कार्तिक को स्टेज से उतारकर गाली-गलौज की और थोड़ी देर बाद संजय ने भरी भीड़ में कार्तिक पर फायरिंग कर दी। एक गोली कार्तिक के सिर के पास से एक गोली जबकि दूसरी गोली दाहिने हाथ की हथेली में लगी। इसके बाद मेले में भगदड़ मच गई। उधर, ग्रामीणों के सहयोग से कार्तिक को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद कार्तिक को खतरे से बाहर बताया गया। अभी वह इलाजरत है। उन्होंने बताया कि इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है। अन्य आराेपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी चल रही है। 
 

एसपी के निर्देश पर बनी थी टीम 
थाना प्रभारी ने बताया कि फायरिंग की घटना के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी अंजनी झा के निर्देश पर टीम बनाई गई थी। थानेदार ने बताया कि पालकोट प्रखंड के एक कांड में संजय टाइगर फरार चल रहा था। जिसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। जो पांच माह पूर्व जेल से बाहर निकला था। संजय टाइगर पर अबतक 14 मामला दर्ज हैं। जिसमें सिमडेगा में एक, बसिया प्रखंड में तीन, कामडारा प्रखंड में एक, पालकोट में एक, सिसई में एक व गुमला थाना में पांच मामले दर्ज हैं। इनमें रंगदारी, लूटपाट व हत्या से संबंधित धाराएं हैं।
 


 

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें