वारदात / नाबालिग ने चाकू से वारकर की पिता की निर्मम हत्या, आरोपी बेटे को पुलिस ने किया गिरफ्तार



ग्रामीणों से घटना की जानकारी लेती पुलिस। ग्रामीणों से घटना की जानकारी लेती पुलिस।
X
ग्रामीणों से घटना की जानकारी लेती पुलिस।ग्रामीणों से घटना की जानकारी लेती पुलिस।

  • आपसी विवाद के बाद पत्नी ने पति को पकड़ नाबालिग से मारने को कहा था...
  • मां के कहने पर नाबालिग बेटे ने पास रखे चाकू से पिता पर किया ताबड़तोड़ वार
  • पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा, गुरुवार देर रात की घटना

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 04:49 PM IST

गुमला. सिसई थाना क्षेत्र के असरो गांव में गुरुवार देर रात 14 वर्षीय नाबालिग बेटे चाकू से ताबड़तोड़ वारकर अपने पिता की हत्या कर दी। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी नाबालिग फरार हो गया। उधर, शुक्रवार सुबह पुलिस को मिली जानकारी के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। साथ ही आरोपी नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया।

 

एटीएम में सिक्युरिटी गार्ड था मृतक
पुलिस ने बताया कि मृतक 30 वर्षीय अनिल सिंह प्रखंड मुख्यालय स्थित एसबीआई बैंक के एटीएम में सिक्युरिटी गार्ड था। पुलिस के मुताबिक, गुरुवार की देर रात अनिल सिंह और उसकी पत्नी पदमावती देवी के बीच आपसी विवाद हुआ। इसी दौरान पदमावती ने अनिल सिंह को पकड़ लिया और बेटे आर्यन सिंह से मारने को कहा। इसके बाद आर्यन ने पास रखे चाकू से पिता अनिल पर ताबड़तोड़ वार कर दिया। इसके बाद जब अनिल की मौत हो गई तो पदमावती ने आर्यन को गले लगाकर उसे शाबासी भी दी। 

 

नौंवी का छात्र है आरोपी नाबालिग
पुलिस ने बताया कि आरोपी आर्यन रोशनपुर स्थित स्कूल में नौंवी का छात्र है। फिलहाल, पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। पुलिस ने घटनास्थल से वारदात में प्रयुक्त चाकू भी बरामद कर लिया है। 

 

अनिल के गर्दन और पीठ पर चाकू से वार के निशान
पुलिस ने बताया कि अनिल सिंह गुरुवार सुबह ड्यटी के लिए एसबीआई एटीएम सिसई गया था। शाम करीब 7 बजे नशे में धुत होकर घर वापस लौट रहा था। घर से कुछ दूरी पर उसकी बाइक बंद हो गई। इसके बाद उसने अपनी 10 वर्षीय बेटी अनन्या को बुलाया और बाइक को धकेलने को कहा। थोड़ी देर बाद अनिल की पत्नी पदमावती बाहर निकली तो बेटी से बाइक को धक्का देते देख आक्रोशित हो गई। इसके बाद अनिल और पदमावती के बीच नोकझोक होने लगी। इसी दौरान पदमावती ने अनिल को पकड़ लिया और बेटे आर्यन से मारने को कहा। फिर आर्यन घर के अंदर से सब्जी काटने वाला चाकू लेकर आया और अनिल के गर्दन और पीठ पर ताबड़तोड़ वार कर दिया। इसके बाद आर्यन ने अपने चाचा अजय सिंह को फोन कर पिता द्वारा मां की हत्या करने की जानकारी दी।  

 

ज्यादा खून निकलने से हुई अनिल की मौत
पुलिस ने बताया कि सूचना के बाद अजय घटनास्थल पर पहुंचा तो अनिल घायलवस्था में जमीन पर तड़प रहा था। इसके बाद अनिल को पास के एक निजी क्लिनिक के डॉक्टर राजेन्द्र को बुलाया। डॉक्टर राजेन्द्र ने अनिल का उपचार किया। उपचार के बाद अनिल द्वारा बातचीत किये जाने के बाद परिजनों ने उसकी स्थिति सामान्य मान ली और उसे अस्पताल नहीं ले जाया गया। हालांकि घायलावस्था में अनिल के शरीर से काफी खून निकल चुका था जिसके कारण उसकी तबीयत बिगड़ती गई और रात करीब 10 बजे उसकी मौत हो गई।

 

मृतक के छोटे भाई के बयान पर आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज
थाना प्रभारी विष्णु देव चौधरी ने कहा कि पति पत्नी के बीच हुए विवाद के दौरान आरोपी आर्यन द्वारा काफी बीच बचाव किया गया। मगर नशे में होने के कारण पति-पत्नी को छोड़ नहीं रहा था। तभी आर्यन ने पिता के पर चाकू से हमला कर दिया। घायल अवस्था में घर में ही उसकी इलाज की गई। पर्याप्त इलाज नहीं होने के कारण उसकी मौत हो गई। उन्होंने कहा कि मृतक के छोटे भाई के बयान पर आरोपी नाबालिग के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। पूछताछ के बाद उसे रिमांड होम भेज दिया गया है। पत्नी के बोलने पर बेटे द्वारा हत्या की बात पर उन्होंने कहा कि यह अनुसंधान का विषय है। अनुसंधान में जो विषय सामने आएगी, उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना