अपराध / माओवादियों ने गोली मारकर की भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, ट्रक को भी किया आग के हवाले



Gumla News youth killed by naxals suspecting him to be spy of police
Gumla News youth killed by naxals suspecting him to be spy of police
X
Gumla News youth killed by naxals suspecting him to be spy of police
Gumla News youth killed by naxals suspecting him to be spy of police

  • गोलियों की आवाज सुनकर घर में दुबक गए ग्रामीण, घटना के 12 घंटे बाद भी घटनास्थल नहीं पहुंची पुलिस

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 06:20 PM IST

गुमला. बिशुनपुर थाना क्षेत्र के बनालात निवासी भाजपा कार्यकर्ता ब्रजेश साहू 38 वर्ष, पिता शंकर साहू को कसमार क्षेत्र के कटिया गांव में लगने वाले साप्ताहिक हाट से माओवादियों के तीन सदस्यों द्वारा बृहस्पतिवार शाम 5:30 बजे ब्रजेश के मुर्गा दुकान से उसे अगवा कर लिया गया और आधा किलोमीटर दूर राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय कटिया के समीप ले जा कर बीच रोड में करीब 7 बजे गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके बाद माओवादियों ने पर्चा फेंक कर घटना की जिम्मेदारी लेते हुए ब्रजेश साहू के ऊपर पुलिस का मुखबिर बता कर उसे सजा देने की बात कही है। साथ ही उन्होंने दूसरे मुखबिरों को भी सतर्क रहने की बात पर्चा के द्वारा कही है। 

 

बीच सड़क पर गोली मारकर की हत्या
ब्रजेश साहू सप्ताहिक हाट कटिया में मुर्गा का दुकान लगाता था। गुरुवार को भी कटिया बाजार पहुंचकर दुकान पर था। इसी बीच 5:30 बजे के लगभग माओवादी के तीन सदस्य आ धमके और ब्रजेश का हाथ बांधकर बाजार से आधा किलोमीटर दूर स्कूल के समय ले जाकर बीच सड़क पर गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना पर शुक्रवार सुबह भाजपा के अशोक उरांव, भिखारी भगत, जगत ठाकुर आदि लोगों ने घटनास्थल पहुंचकर परिजनों को हर संभव मदद की बात कही। इधर, ब्रजेश की हत्या से एक घंटा पूर्व बीड़ी पत्ता लदे ट्रक को भी स्कूल के समय माओवादी सदस्यों ने आग के हवाले कर दिया। 

 

खुद को छोड़ने की फरियाद करता रहा ब्रजेश
माओवादी सदस्य जब ब्रजेश को पकड़कर स्कूल के समीप लाए तब वो चिल्ला-चिल्ला कर जान बख्श देने की गुहार लगा रहा था परंतु माओवादियों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद मृतक की पत्नी ने कहा कि 15 वर्ष पूर्व अंतरजातीय प्यार होने के कारण हम लोगों की शादी नहीं हो रही थी तब भाकपा माओवादियों ने हमारी शादी कराई थी। 

 

पति की हत्या की साजिश रचने वालों को सजा दिलाकर कर रहूंगी
घटनास्थल पर पत्नी मिथिला देवी ने कहा कि मेरे पति के हत्या के पीछे कई सफेदपोश जनप्रतिनिधि हैं, जिन्होंने साजिश रच कर माओवादियों से उनकी हत्या कराई है। मैं कुछ भी करूंगी लेकिन मेरे पति की हत्या की साजिश रचने वालों को मैं सजा दिलाकर रहूंगी। 

 

3 साल बाद अचानक माओवादियों की उपस्थिति से सहमे ग्रामीण
कसमार क्षेत्र माओवादियों का शुरू से गढ़ माना जाता रहा है परंतु पिछले कुछ सालों से पुलिस की गतिविधि तेज होने के बाद क्षेत्र के लोग शांति महसूस कर रहे थे। दूसरी ओर माओवादियों का भी क्षेत्र में गतिविधि ना के बराबर हो गया था परंतु अचानक गुरुवार को माओवादियों अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए भाजपा कार्यकर्ता सह मुर्गा व्यवसाई बृजेश साहू की हत्या कर दी। कुछ ग्रामीणों ने बताया कि गोली की आवाज सुनते ही हम लोग अपने दरवाजे बंद कर घर में दुबक गए। साहस नहीं जुटा पाए कि आखिर घटना क्या है? सुबह 7:30 बजे ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे।

 

घटना के 12 घंटे बाद भी नहीं पहुंची पुलिस चौकीदार के माध्यम से मंगाया गया शव
घटना के बाद इसकी सूचना ब्रजेश साहू की पत्नी के द्वारा पुलिस को दी गई। लेकिन 12 घंटा बीत जाने के बाद भी पुलिस घटनास्थल नहीं पहुंची। सुबह आठ बजे चौकीदार के माध्यम से मृतक के लाश को मंगवाया गया।  

COMMENT