अपराध / युवती को भगाने के आरोपी को भेजा जेल, 13 दिनों तक नशे की दवा देकर युवती को छिपाया



जानकारी देती थाना प्रभारी व हिरासत में आरोपी। जानकारी देती थाना प्रभारी व हिरासत में आरोपी।
X
जानकारी देती थाना प्रभारी व हिरासत में आरोपी।जानकारी देती थाना प्रभारी व हिरासत में आरोपी।

  • खाना में मिलाकर दे रहा था क्रोसिन, आरोपी की पत्नी ने कहा- अगर यहां लेकर आता तो बेच देते उसे

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 06:58 PM IST

हजारीबाग. हजारीबाग की युवती के साथ श्रीनगर में पकड़े गए आरोपी को हजारीबाग महिला थाना की पुलिस ने शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। आरोपी युवती को 22 अप्रैल को शादी का झांसा देकर भगाया था और उसके घर के बगल में ही किराए के मकान में 13 दिनों तक रखा। इस दौरान आरोपी ने युवती के खाने में नशे की गोली और ड्रग्स मिला कर दे रहा था। जब वह नशे में होती थी तो आरोपी युवती कमरे के छज्जे पर लिटा कर छिपा देता था। मौका पाकर पांच मई को युवती को लेकर श्रीनगर चला गया। वहां भी उसे अपनी पत्नी बता कर किराए के मकान में रह रहा था। आरोपी के बैग से वोटर आईडी कार्ड, कपड़ा और क्रोसिन दवा भारी मात्रा में बरामद किया गया है। इधर, युवती का कोर्ट में बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया पुलिस पूरी कर रही है उसके बाद उसे परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

 

नई दिल्ली का निवासी है आरोपी
थाना प्रभारी राधा देवी ने बताया कि आरोपी संजय कुमार नई दिल्ली के करनाल रोड बुराड़ी झरौंदा का रहने वाला है। वो यहां एक फैक्ट्री में काम करता है। वह काम के लिए छह महीने पहले हजारीबाग आया था। यहां मुनका बगीचा कानी बाजार में किराए के कमरे में रह कर फैक्ट्री में काम करने लगा। थाना प्रभारी ने बताया कि युवती बिहार की रहने वाली है। आरोपी युवती के मौसा की फैक्ट्री में काम करता था। युवती पिछले दिनों अपने मौसा के घर आई थी। युवक ने काम के क्रम में युवती को प्रेम जाल में फंसाया। थाना प्रभारी राधा देवी ने बताया कि युवक ने अपने बयान में कहा है कि वह 22 अप्रैल को युवती को झांसा में लेकर भगा लिया और कमरे में छिपा लिया। घर वाले खोजने लगे पर युवती कहीं नहीं मिली। फिर परिजनों ने महिला थाना में युवती के गायब होने की सूचना दी। जिस पर तत्काल सनहा दर्ज कर लिया गया।

 

स्थानीय युवक ने दिया आरोपी का साथ
आरोपी ने बताया कि युवती को भगाने के बाद वह रोज फैक्ट्री आता था और युवती के परिवार के हर गतिविधियों पर नजर रखता था। उसने बताया कि इस काम में एक स्थानीय युवक ने उसकी मदद की। पांच मई को युवती को नशे की हालत में ट्रेन से लेकर दिल्ली चला गया। दिल्ली से घर नहीं जा कर युवती को श्रीनगर लेकर आ गया। यहां राममुंशीबाग थाना क्षेत्र में किराए के कमरे में युवती को पत्नी बता कर रहने लगा। उधर, आरोपी के फैक्ट्री नहीं आने से युवती के परिजनों को शक हुआ और उन्होंने थाना में अपहरण का मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने आरोपी का लोकेशन ट्रैक किया जिससे उसके श्रीनगर में होने की जानकारी मिली। इसके बाद वहां की महिला आईपीएस से थाना प्रभारी ने संपर्क किया। आईपीएस ने एक्शन लिया और 13 मई को दोनों एक साथ पकड़े गए। जब दोनों वापस हजारीबाग पहुंचे और पूछताछ हुई तो युवक ने बताया कि उसकी एक शादी इसी तरह के प्रेम प्रसंग के बाद हुई। उसकी पत्नी दिल्ली स्थित घर पर रहती है। चार साल का एक बेटा भी है। जब युवक की पत्नी से संपर्क किया तो उसका कहना था कि अगर वह युवती को घर पर लेकर आता तो कहीं बेच देते, घर पर रखने नहीं देते। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना