झारखंड / प्रदेश कांग्रेस में तकरार की वजह बन गए हेमंत सोरेन, आज दिल्ली में पार्टी आलाकमान सुलझाएगा मसला



Hemant Soren becomes the reason for the dispute in state Congress
X
Hemant Soren becomes the reason for the dispute in state Congress

  • झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष को सीएम प्रोजेक्ट करने के डॉ. अजय के फैसले पर घमासान
  • कांग्रेसियों के बीच सिर फुटव्वल के बाद तत्काल बुलाई गई बैठक

Dainik Bhaskar

Aug 03, 2019, 05:42 AM IST

रांची/नई दिल्ली. पार्टियों के भीतर पद और कद की दौड़ में नेताओं के आपसी घमासान तो झारखंड की जनता ने बहुत देखे हैं। मगर शायद ये पहला मौका है कि जब किसी एक पार्टी में तकरार की वजह, दूसरी पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष बना है। प्रदेश कांग्रेस में मचे घमासान और सिर फुटौव्वल के पीछे संभवत: झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को बतौर सीएम प्रोजेक्ट कर आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने का मुद्दा है।

 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार लोकसभा चुनाव के समय हुए महागठबंधन के वादे को आगे बढ़ाते हुए हेमंत सोरेन के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ने के पक्षधर बताए जाते हैं। जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय व झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी समेत कांग्रेस के कई प्रभावशाली नेता हेमंत सोरेन को नेतृत्व सौंपने के विरोधी बताए जा रहे हैं। अब शनिवार को यही मुद्दा सुलझाने के लिए दिल्ली में कांग्रेस आलाकमान की महत्वपूर्ण बैठक होने जा रही है।

 

लोकसभा चुनाव में पार्टी की करारी हार के बाद शनिवार को हो रही बैठक के लिए दिल्ली के बुलावे पर राज्य के सीनियर कांग्रेसी लीडर दिल्ली पहुंच गए हैं। पदाधिकारियाें का पूरा कुनबा पहले से दिल्ली में है। सांगठनिक मामलाें के प्रभारी अाैर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव केसी वेणुगाेपाल ने यह बैठक बुलाई है। बैठक में आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियाें और इसमें नेतृत्व के साथ ही चुनाव के पूर्व संगठन में प्रदेश के नेतृत्व के मुद्दे पर हंगामेदार चर्चा हाेने की संभावना है।

 

अजय कुमार की ओर से कहा जा रहा है कि हेमंत सोरन के नेतृत्व में चुनाव की वकालत करने के कारण ही कांग्रेस के कई नेता जब तब प्रदेश की राजनीति में बवाल मचा रहे हैं। हाल में डाॅ. अजय कुमार के खिलाफ राज्य के कई सीनियर नेताओं ने माेर्चा खाेल रखा है। वे लाेकसभा चुनाव परिणाम के बाद से ही नेतृत्व परिवर्तन के लिए दिल्ली की दाैड़ लगा रहे हैं। बताते चलें कि सीनियर कांग्रेस नेताओं के विराेध काे देखते हुए ही पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने बैठक बुलाने का आश्वासन दिया था लेकिन गुरुवार काे कांग्रेस भवन में कांग्रेस के दाे गुटाें के बीच हुई तीखी झड़प की सूचना मिलने के बाद दिल्ली के नेतृत्व ने तत्काल बैठक बुलाने का निर्णय लिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना