पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Jharkhand Assembly Budget Session Opposition Uproar In Vail Budget For Financial Year 2020 21 Will Be Presented On March 3

हंगामे के साथ बजट सत्र शुरू; वेल में घुसा विपक्ष, सत्ता पक्ष भी विराेध में पहुंचा

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।
  • नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी पर बाबूलाल मरांडी को बैठाने की मांग कर रहे थे भाजपा विधायक
  • वेल में बैठकर भाजपा विधायकों ने लगाए जयश्री राम व भारत माता की जय के नारे
Advertisement
Advertisement

रांची. नए विधानसभा परिसर में शुक्रवार काे पांचवे झारखंड विधानसभा का पहला बजट सत्र शुरू हुअा। इसके पहले सीएम हेमंत साेरेन, स्पीकर रविंद्रनाथ महताे, संसदीय कार्यमंत्री अालमगीर अालम अाैर अन्य विधायकाें की उपस्थिति में नए विधानसभा में बजट सत्र का उद्घाटन किया गया। शुक्रवार काे सदन की कार्यवाही दिन के 11.10 बजे शुरू होते ही भाजपा विधायकों ने सीट पर खड़े होकर बाबूलाल को प्रतिपक्ष के नेता की मान्यता दिये जाने की मांग शुरू कर दी। इसके बाद बाबूलाल मरांडी को प्रतिपक्ष के नेता की मान्यता नहीं मिलने से नाराज हाेकर भाजपा ने जमकर हंगामा किया। इसकी वजह से झारखंड विधानसभा का बजट सत्र हंगामे के साथ शुरू हुअा।
 
मुख्य विपक्ष की भूमिका में भाजपा के विधायक हंगामा करे हुए वेल तक पहुंच गए, तब सत्ता पक्ष की अाेर से भी कुछ विधायक विपक्ष का विराेध करते हुए वेल मे अाए गए। इनके बीच नाेक झाेंक भी हुई। इस बीच भाजपा के विधायकाें की अाेर से वेल में ही जयश्री राम और भारत माता की जय, के नारे लगे। दूसरी अाेर मान्यता नहीं मिलने की वजह से पहली बार बजट सत्र प्रतिपक्ष के नेता की खाली सीट के साथ शुरू हुआ। 

स्पीकर के संबोधन के बीच 18 भाजपा विधायक वेल में पहुंचे
सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायकों द्वारा बाबूलाल मरांडी को प्रतिपक्ष के नेता की मान्यता करने पर स्पीकर रवींद्रनाथ महतो ने कहा कि इस पर न्याय संगत निर्णय होगा। इसके बाद स्पीकर ने अपना संबोधन शुरू कर दिया। इसी दौरान भाजपा विधायकाें ने हंगामा करना शुरू कर दिया। भाजपा के 18 विधायक विधायक वेल में आ गये। स्पीकर ने अपना संबोधन बीच में रोक कर कहा कि नये भवन में सदन की कार्यवाही पहली बार शुरू हो रही है। यह समय वेल में आने का नहीं है। यह अच्छी परिपार्टी नहीं है। विपक्ष ने कहा कि पहले बाबूलाल के मामले में निर्णय लिया जाए।


स्पीकर ने कहा कि न्याय होगा लेकिन पहले सभी विधायक अपनी सीट पर जाएं। हालांकि भाजपा के विधायक नहीं माने और वेल में ही रहे और हंगामा करते रहे। इसी बीच सत्ता पक्ष के भी कई विधायक वेल में आ गये और विपक्ष का विरोध करना शुरू कर दिया। इसको लेकर दोनों ओर से हाे रही नोंक झोंक के बीच स्पीकर ने अपना वक्तव्य पढ़ा। इधर सीएम भी अपनी सीट पर बैठे-बैठे मुंह पर उंगली रखकर सभी को शांत रहने का इशारा कर रहे थे, लेकिन हंगामा होता रहा। 

वेल में बैठकर लगाए भारत माता की जय और जयश्री राम के नारे
विपक्ष के विधायक इस बीच वेल में ही बैठ गये। इसके साथ ही वे भारत माता की जय और जयश्री राम का नारा लगाने लगे। हालांकि सीएम अाैर स्पीकर के अनुरोध के बाद 11.26 बजे विपक्षी अपनी सीट पर आ गये। इसके बाद नीलकंठ सिंह मुंडा ने प्रतिपक्ष के नेता का मामला कार्य मंत्रणा समिति में ले जाने की मांग उठाई। तब तक हंगामे के बीच ही संसदीय कार्यमंत्री आलमगीर आलम ने तीसरा अनुपूरक बजट पेश किया। इधर, स्पीकर द्वारा कार्यमंत्रणा समिति, सभापति के मनोनयन और शोक प्रकाश के बाद सदन की कार्यवाही सोमवार को 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement