कहीं सपना, कहीं सवाल... / मां की आंखों में भविष्य का नेता...भविष्य की आंखों में सवाल- नेता ऐसा होता है! 

Jharkhand Assembly Election 2019 Candidates campaigning in different ways
X
Jharkhand Assembly Election 2019 Candidates campaigning in different ways

दैनिक भास्कर

Nov 27, 2019, 10:00 AM IST

रांची. कहते हैं आंखें झूठ नहीं बोलतीं...जो मन में होता है आंखों में दिख जाता है। आंखों की ये स्पष्टवादिता मंगलवार के चुनावी गहमागहमी भरे दिन की इन दो तस्वीरों में और साफ नजर आती है। 

पहली तस्वीर बोकारो की है। झाविमो प्रत्याशी के नामांकन की रैली में महिलाओं और बच्चों की संख्या भी खासी थी। इस भीड़ में ये बच्चा पार्टी के झंडे से खेल रहा था, मगर पास बैठी मां की आंखें बताती हैं कि उसके खेल में भी मां की ममता भविष्य की संभावनाएं जोड़ रही थी। आज झंडे से खेलने वाला कल झंडा उठा भी तो सकता है...।

 

मगर भवनाथपुर की दूसरी तस्वीर इस कहानी का दूसरा पहलू दिखाती है। भवनाथपुर में भाजपा प्रत्याशी प्रचार पर निकले...रास्ते में बच्चे को देख गोद में उठा लिया। लेकिन किसी भी आम आदमी की ही तरह इस बच्चे के लिए भी नेता दिखना शायद दुर्लभतम घटना थी। आंखों में मानो सवाल आ गया...क्या नेता ऐसा ही होता है!

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना