पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Baba Ramdev Said In Acharyakulam Do Not Break The Country, Arms Will Not Be Found In The Temple, Other People Should Give Similar Guarantee.

बाबा रामदेव बोले- देश को मत तोड़ो, मंदिराें में नहीं मिलेगा हथियार, दूसरे लाेग भी ऐसी ही गारंटी दें

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बाबा रामदेव।- फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
बाबा रामदेव।- फाइल फोटो।
  • बाबा रामदेव ने कहा- इस देश को हिंदू-मुसलमान और मजहबी उन्माद के नाम पर मत लड़ाओ, नहीं तो देश टूटेगा
  • कहा- मैं किसी की आस्था पर प्रहार नहीं करता, न किसी से डरता हूं और न ही किसी को डराता हूं

नामकुम (रांची). योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि मैं गारंटी के साथ कहता हूं कि हिंदुस्तान के एक भी मंदिर, वैदिक स्कूल या गुरुकुल में हथियार या ऐसी चीज नहीं मिलेंगी जो कानून की दृष्टि से गलत हैं। दूसरे लोग भी ऐसी गारंटी दें। उन्हाेंने कहा- इस देश को हिंदू-मुसलमान और मजहबी उन्माद के नाम पर मत लड़ाओ, नहीं तो देश टूटेगा। देश टूटा तो सबको हानि होगी। मैं किसी की आस्था पर प्रहार नहीं करता। न किसी से डरता हूं और न ही किसी को डराता हूं। आचार्यकुलम में आए रामदेव ने बच्चाें काे काेराेनावायरस से बचने के उपाय भी बताए।

रामदेव ने कहा कि यह देश किसी राजनीतिक पार्टी, संगठन या किसी व्यक्ति की जागीर नहीं है। यह देश हम भारतीयों का है। यह देश संविधान से चलता है। किसी को किसी से डरने की जरूरत नहीं है। न ही हिंदू धर्म खतरे में है और न ही इस्लाम धर्म। अगर खतरे में है तो वे लोग जिनकी कुछ अलग मंशा है। उन्हाेंने कहा कि भारत पाेर्न वीडियाे का सबसे बड़ा केंद्र बन गया है। करीब 70 फीसदी युवा पाेर्न देखते हैं। इनसे बचने के लिए हम अपने बच्चाें काे बेहतर शिक्षा दे रहे हैं। कई अच्छे संन्यासियाें काे भी यहां लगाया है।

योगगुरु बोले...जरूरत पड़ी तो चीन जाकर लोगों को योग सिखाऊंगा
योगगुरु बाबा रामदेन आचार्यकुलम पहुंचे, वहां पर पढ़ाई कर रहे बच्चों के साथ मुलाकात की और उन्हें बेहतर जीवन जीने के लिए प्रेरित करते हुए लक्ष्य प्राप्ति के लिए जरूरी बात बताएं। इस दौरान बाबा ने बच्चों को योग प्राणायाम और अनुशासन को अपने जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बनाने का संदेश दिया। इसके बाद आचार्यकुलम परिसर में मीडिया के साथ वार्ता की। वार्ता में सर्वप्रथम बाबा रामदेव ने कोरोना वायरस पर चर्चा करते हुए उससे बचाव के लिए बताया।


विदेशी और एनआरआई के संपर्क में आने से सिर्फ बचना है। उन्होंने बताया कि कोरोना से आॅरगेन्स फेलुअर होते हैं, बाॅडी सपोर्ट नहीं करने लगती है। इस संक्रमण से बचने के लिए एक गिलोए की डंडी लें इसके बाद उसे 400 ग्राम पानी में सात तुलसी के पत्ते, एक ग्राम हल्दी, एक ग्राम कालीमिर्च और एक ग्राम अदरक डालकर काढ़ा तैयार कर लें। इसके सेवन से काफी राहत मिलेगी। साथ ही कपाल भांती, अनुलोम विलोम आदि योग करें। उन्होंने कहा कि मैंने चाइना देश को भी आॅफर किया है कि वहां के लोगों को योग सिखाइए। मांसाहारी लोगों को यह संक्रमण बहुत अधिक होने की संभावना बनी रहती है। मांसाहार का सेवन न करें तो बेहतर होगा।
बाबा रामदेव ने कहा कि आचार्यकुलम में बच्चों को अच्छी शिक्षा के साथ अच्छी संस्कार दी जाती है। एक वर्ष में ही बच्चों के बीच आसमान जमीन का फर्क दिखने लगता है।

खबरें और भी हैं...