रांची / बाबूलाल मरांडी का ढोंग उजागर हुआ कि वह कितने बड़े पॉलिटिकल सेलर हैं: झामुमो

झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य। (फाइल) झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य। (फाइल)
X
झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य। (फाइल)झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य। (फाइल)

  • अपने पापों पर पर्दा डालने के लिए बाबूलाल को पार्टी में शामिल करा रही है भाजपा

दैनिक भास्कर

Feb 16, 2020, 06:26 PM IST

रांची.  झामुमो ने कहा है कि जो अंदेशा था, वह सही हुआ। बीजेपी के बिना अपने अधूरा समझने वाले बाबूलाल मरांडी का सपना अब पूरा हुआ। इतना ही नहीं आादिवासी, अल्पसंख्यक समाज के साथ होने और विपक्ष का साथ लेकर भाजपा विरोधी आभा मंडल बनाने का उनका ढोंग भी उजागह हुआ। यह भी कि वह कितने बड़े पॉलिटिकल सेलर हैं। झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य रविवार को पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे।

सुप्रियो भट्टाचार्य ने पहले तो अपने विधायकों को भेजकर भाजपा को मजबूत करते थे, इस बार खुद भी शामिल होकर उसे मजबती प्रदान करने जा रहे हैं। लेकिन सच यह है कि वह एेसे जहाज में जा रहे हैं, जो डूबने की स्थिति में है।

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि पांच साल के भाजपा सरकार के पाप का पिटारा खुल गया है। उसमें मैनहर्ट भी शामिल है। इसलिए बाबूलाल मरांडी का भाजपा में जाना एक संयोग नहीं, प्रयोग है। उनकी साफ-सुथरी छवि के बहाने भाजपा अपने पाप के पिटारों पर पर्दा डालने की कोशिश कराएगी। लेकिन ऐसा होगा नहीं।


उन्होंने कहा कि 2014 में झाविमो के छह विधायकों के भाजपा में शामिल होने के विरुद्ध दसवीं अनुसूची के उल्लंघन का हवाला देनेवाले बाबूलाल अब क्या बोलेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के सामने स्थिति यह है कि दो महीने बाद भी वह विधायक दल का नेता नहीं चुन सकी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना