• Hindi News
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Jharkhand Chunav 2019: Congress Subodh Kant Sahay Reaction On BJP Election Manifesto Over Jharkhand Vidhan Sabha Election 2019

बयान / झूठे वादों और दावों का पुलिंदा है भाजपा का संकल्प पत्र: सुबोधकांत सहाय

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय। (फाइल) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय। (फाइल)
X
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय। (फाइल)कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय। (फाइल)

Dainik Bhaskar

Nov 27, 2019, 05:04 PM IST

रांची.  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि भाजपा का चुनावी संकल्प पत्र पूरी तरह झूठ पर आधारित है। इसमें पांच वर्षों के अंदर भाजपा की ओर से किए गए कार्यों का जो विवरण दिया गया है, वह पूरी तरह हवा-हवाई और जुमलेबाजी का नमूना है। सुबोधकांत सहाय ने संकल्प पत्र पर टिप्पणी करते हुए ये बातें कही।

उन्होंने कहा कि जो दावे संकल्प पत्र में हैं, वह जमीन पर कहीं दिखाई नहीं देते। संकल्प पत्र में दावा किया गया है कि चार साल में 68 लाख घरों में बिजली पहुंची है। 10 सबग्रिड पावर स्टेशनों का निर्माण हो चुका है। 3,28,000 एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाए जा चुके हैं। इसमें यह नहीं बताया गया है कि 68 लाख घरों में बिजली के तार पहुंचे हैं या बिजली भी आई है। कितने स्ट्रीट लाइट जल रहे हैं। राजधानी रांची के लोगों को गर्मी के मौसम में नियमित रूप से पंखे की हवा तक नहीं मिल पाती है। अंधेरे में रातें काटनी पड़ीं। दूर-दराज इलाकों में तो बिजली मेहमान की तरह कभी-कभार आती रही। जीरो पावर कट का वादा था और 12-12 घंटे तक लोडशेडिंग होती रही। निजी क्षेत्र की कई विद्युत उत्पादक कंपनियों को सरकार की गलत नीतियों के कारण बोरिया-बिस्तर समेटकर वापस लौट जाना पड़ा। पतरातु थर्मल पावर प्लांट मृतप्राय है। डीवीसी के बकाया का कभी पूरी तरह भुगतान नहीं हो पाया। बार-बार आपूर्ति में कटौती की धमकियां मिलती रहीं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सहाय ने कहा कि संकल्प पत्र में पांच वर्षों में 22 हजार से अधिक किलोमीटर तक सड़कें बनाने का दावा है और अगली बार सभी जिलों तक 8 लेन राजमार्गों का कोरिडोर बनाने का वादा किया गया है। मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि रांची-टाटा हाई- वे की क्या हालत है। जनता को इस रोड के जीर्णोद्धार का लंबे समय से इंतजार है। रांची-गुमला हाइवे अभी तक रांची शहर में चार लेन नहीं हो सका। अरगोड़ा-कटहल मोड़ रोड पर कहीं जल जमाव है, तो कहीं गड्ढे। उन्होंने कहा कि भाजपा को संकल्प पत्र में उन वायदों का जिक्र भी करना चाहिए था जो पूरे नहीं हो सके।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना