--Advertisement--

झारखंड कुम्हार महापंचायत 18 नवंबर को रांची में, समिति की अगली प्रमंडलीय बैठक 2 सितंबर को

झारखंड गठन के 18 वर्ष बीत जाने के बाद भी झारखंड में कुम्हार की दशा एवं दिशा में कोई परिवर्तन नहीं हो सका

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 01:05 PM IST
बैठक की अध्यक्षता समिति के मुख बैठक की अध्यक्षता समिति के मुख

रांची. झारखंड कुम्हार महापंचायत (महारैली) का आयोजन 18 नवंबर को रांची में किया गया। यह निर्णय झारखंड के विभिन्न कुम्हार संगठनों के साझा मंच झारखंड कुम्हार समन्वय समिति की गत शनिवार को बोकारो में हुई तीसरी बैठक में ली गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए समिति के मुख्य संयोजक तथा माटी कला बोर्ड के सदस्य अविनाश देव ने कहा कि इस महारैली के माध्यम से झारखंड के कुम्हारों की दशा एवं दिशा पर मंथन किया जाएगा ताकि इसको लेकर ठोस निर्णय लिया जा सके।

महारैली में तमाम मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जाएगा

उन्होंने कहा कि झारखंड गठन के 18 वर्ष बीत जाने के बाद भी झारखंड में कुम्हार की दशा एवं दिशा में कोई परिवर्तन नहीं हो सका। महारैली में तमाम मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जाएगा। इस महारैली में पूरे झारखंड से 5 लाख कुम्हार जाति के लोगों के भाग लेने की बात गयी है। महारैली की सफलता के लिए प्रमंडल एवं जिलावार लोगों को जिम्मेवारी भी तय की गयी। अब समिति की चौथी बैठक 2 सितंबर को लोहरदगा में होगी।

झारखंड के 22 जिलों से विभिन्न संगठनों के लोग शामिल हुए

इसमें महारैली को आगे की रणनीति पर विचार किया जाएगा। बैठक में बालगोविंद प्रजापति, देवनारायण प्रजाप्रति, प्रकाश कुमार, रामरंजन प्रजापति, ललन प्रजापति, कैलाश पंडित, अवधेश कुमार, राजू प्रजापति, प्रसाद महतो, लखुचरण महतो, नंदलाल महतो, गोपाल प्रजापति, ललिता देवी, सरिता देवी, नमिता देवी सहित झारखंड के 22 जिलों से विभिन्न संगठनों के लोग शामिल हुए।

X
बैठक की अध्यक्षता समिति के मुखबैठक की अध्यक्षता समिति के मुख
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..