झारखंड / 12 को पीएम करेंगे झारखंड विस के नये भवन का उद्घाटन, 13 को एक दिन का विशेष सत्र



झारखंड विधानसभा का नया भवन झारखंड विधानसभा का नया भवन
इसी सेंट्रल हॉल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड विधानसभा के नए भवन पर डाक टिकट जारी करेंगे। इसी सेंट्रल हॉल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड विधानसभा के नए भवन पर डाक टिकट जारी करेंगे।
स्पीकर का आसन, इस पर बैठेंगे विधानसभा अध्यक्ष प्रो. दिनेश उरांव। स्पीकर का आसन, इस पर बैठेंगे विधानसभा अध्यक्ष प्रो. दिनेश उरांव।
यही है सदन, जहां झारखंड के विधायक बैठकर राज्य के लिए नितियां बनाएंगे। यही है सदन, जहां झारखंड के विधायक बैठकर राज्य के लिए नितियां बनाएंगे।
X
झारखंड विधानसभा का नया भवनझारखंड विधानसभा का नया भवन
इसी सेंट्रल हॉल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड विधानसभा के नए भवन पर डाक टिकट जारी करेंगे।इसी सेंट्रल हॉल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड विधानसभा के नए भवन पर डाक टिकट जारी करेंगे।
स्पीकर का आसन, इस पर बैठेंगे विधानसभा अध्यक्ष प्रो. दिनेश उरांव।स्पीकर का आसन, इस पर बैठेंगे विधानसभा अध्यक्ष प्रो. दिनेश उरांव।
यही है सदन, जहां झारखंड के विधायक बैठकर राज्य के लिए नितियां बनाएंगे।यही है सदन, जहां झारखंड के विधायक बैठकर राज्य के लिए नितियां बनाएंगे।

  • पीएम साहेबगंज में बने मल्टी मॉडल बंदरगाह का उदघाटन, एकलव्य विद्यालय योजना का भी करेंगे शुभारंभ
  • नए विधानसभा भवन के कांफ्रेंस हॉल में 400 लोग बैठ सकेंगे, 39 एकड़ में तैयार किया गया

Dainik Bhaskar

Sep 10, 2019, 11:49 AM IST

रांची. अलग राज्य बनने के 19 साल बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 सितंबर को झारखंड विधानसभा के नए भवन का उद्घाटन करेंगे। फिर 13 सितंबर को इसी नये विधानसभा भवन में एक दिन का विशेष सत्र का आयोजन किया जाएगा।

 

12 सितंबर को पीएम मोदी विधानसभा के नये भवन का उद्घाटन करने के अलावा नये सचिवालय भवन का भी शिलान्यास करेंगे। साहेबगंज में बने मल्टी मॉडल बंदरगाह का उदघाटन, एकलव्य विद्यालय योजना तथा प्रधानमंत्री मानधन योजना का भी शुभारंभ करेंगे। अत्याधुनिक और ग्रीन बिल्डिंग के तर्ज पर बने झाऱखंड विधानसभा के नये भवन के निर्माण पर लगभग 400 करोड़ की राशि खर्च की गयी है। इसका निर्माण झारखंड-बिहार की कंस्ट्रक्शन कंपनी रामकृपाल सिंह कंस्ट्रक्शन लिमिटेड ने किया है।

 

नए विधानसभा भवन में क्या है खास

  • रांची के धुर्वा में 39 एकड़ में बना है।
  • तीन मंजिला है विधानसभा का भवन।
  • निर्मा की लागत 465 करोड़ रुपए।
  • बिल्डअप एरिया 57,220 वर्ग मीटर।
  • देश में पहला 37 मीटर ऊंचा गुंबद है।
  • देश की पहली पेपरलेस विधानसभा।
  • जल और ऊर्जा संरक्षण की व्यवस्था।
  • छत पर झारखंडी संस्कृति की झलक।
  • आगंतुकों के लिए गैलरी बनाई गई है।
  • कांफ्रेंस हॉल में 400 लोग बैठ सकेंगे।
  • सौर ऊर्जा से भी बिजली की आपूर्ति।

 

साहिबगंज मल्टी मॉडल बंदरगाह

  • गंगा नदी पर बने मल्टी मॉडल बंदरगाह के उद्द्याटन और जलमार्ग का शुभारंभ होने से साहिबगंज की पहचान व्यापारिक केंद्र के रूप में होगी।
  • साहिबगंज बंदरगाह की लागत 299.10 करोड़ रुपए है।
  • बंदरगाह सालाना क्षमता 22 लाख 40 हजार टन है।
  • जलमार्ग से सस्ती दर पर माल की ढुलाई हो सकेगी।
  • कोयला-स्टोन की भी ढुलाई होगी।

 

एकलव्य विद्यालय योजना
प्रधानमंत्री रांची से देश को 462 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों का तोहफा देंगे। झारखंड के हिस्से  69 एकलव्य स्कूल आए हैं। इनमें से 23 स्कूलों के लिए केंद्र सरकार ने 524 करोड़ रुपए की स्वीकृति दे दी है।
एकलव्य विद्यालयों में क्लास 6 से 12 तक कुल 480 छात्र और छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की आवासीय व खेल, संगीत, जीवन कौशल आदि की सुविधा भी प्रदान की जाती है।

 

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना

किसानों के जीवन में सामाजिक सुरक्षा कवच उपलब्ध कराने और वृद्धावस्था में उन्हें आजीविका के साधन उपलब्ध कराने के लिए सुनिश्चित मासिक पेंशन के रूप में प्रधानमंत्री "किसान मानधन योजना' लागू की जा रही है। योजना के तहत किसानों को उम्र के आधार पर 55 से 200 रुपए प्रति माह के बीच पेंशन निधि में अंशदान जमा करना अनिवार्य होगा। 18 से 40 वर्ष के उम्र के किसानों का ही रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपए मासिक पेंशन मिलेगी। 60 वर्ष की आयु पूरी होने से पहले अगर किसान की मृत्यु होती है तो आश्रित पति या पत्नी को पारिवारिक पेंशन के रूप में 50% यानी 1500 रुपए की मासिक पेंशन मिलेगी।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना