बयान / गठबंधन हो तो भी न हो तब भी पार्टी 81 पर लड़ेगी चुनाव: बाबूलाल मरांडी



झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने की प्रेसवार्ता। झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने की प्रेसवार्ता।
X
झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने की प्रेसवार्ता।झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने की प्रेसवार्ता।

  • पार्टी 18 से 15 दिनों का चलाएगी सघन सदस्यता अभियान, 2.50 लाख सदस्य

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 05:45 PM IST

रांची. झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने संकेत दिया है कि गठबंधन को लेकर सबकुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि गठबंधन हो तो भी और न हो तो भी पार्टी 81 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि अगर गठबंधन होगा तो केवल अपने सीट पर प्रचार करेगी या यह कहेगी कि वह केवल इतने सीट चुनाव लड़ रहे हैं। लोकसभा में पार्टी को दो सीट मिली थी तो केवल पार्टी दो पर काम किया। यह बातें बाबूलाल मरांडी ने पार्टी सदस्यता अभियान को लेकर रविवार को पार्टी पदाधिकारियों एवं जिलाध्यक्षों की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही।

 

प्रदीप यादव पार्टी के अब सदस्य: बाबूलाल मरांडी
उन्होंने कहा कि पार्टी चुनाव को अपनी रणनीति 15 अगस्त के बाद तय करेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी एक पखवाड़ें का सघन सदस्यता अभियान 18 जुलाई से शुरू करने जा रही है। जिसके तहत 2.50 लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि प्रदीप यादव पार्टी के अब सदस्य हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में बाबूलाल मरांडी ने कहा कि पार्टी का जब पुनर्गठन होगा तब बता दिया जाएगा। इस मौके पर पार्टी केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की, उपाध्यक्ष रामचंद्र केशरी सहित कई उपस्थित थे।

 

जनता के नहीं, भाजपा के अच्छे दिन जरूर आ गए हैं
बाबूलाल मरांडी ने कहा कि पार्टी सदस्यता अभियान के दौरान नए सदस्य बनने वालों को एक-एक ब्राऊजर देगी, जिसमें राज्य की शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई, ऊर्जा, विस्थापन एवं खेल क्षेत्र की हकीकत बताई जाएगी। इस दौरान वे प्रयास करेंगे कि वे खुद इस अभियान में सभी जिलों में शामिल हों। उन्होंने कहा कि राज्य के हालात बहुत ही खराब हैं। राज्य अब सूखे की चपेट में जाता दिख रहा है। मगर सरकार को चिंता चुनाव एवं सीट की है। अब इस राज्य में मंत्री सीधे घुस मांग रहे हैं और राशन कार्ड बनाने में 2-2 हजार मांगे जा रहे हैं। विधि-व्यवस्था एवं अपराध की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। बिजली, पानी के लिए हाहाकार मचा है। किसान के खेत सूख रहे हैं। उन्होंने कहा कि जनता के न तो अच्छे दिन आए थे और न ही आएंगे, हां मगर भाजपा के अच्छे दिन जरूर आ गए हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना