--Advertisement--

काली पूजा / मां काली की महाआरती के लिए हरमू रोड पर उतरीं 1101 देवियां

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 10:07 AM IST


Kali Puja Celebrate In Hermu Road Ranchi
X
Kali Puja Celebrate In Hermu Road Ranchi

रांची. पीली साड़ी में सजीं 1101 महिलाएं, हाथ में आरती की थाली और उनमें 11-11 दीये। हर तरफ मां काली के जयकारों की गूंज। कुछ ऐसा ही भव्य और अद्भुत नजारा था गुरुवार रात हरमू रोड पर काली पूजा पंडाल के पास। पंडाल के पास कतारबद्ध ये महिलाएं जुटी थीं मां काली की महाआरती के लिए। सड़क की लाइट बुझाने के बाद जैसे ही ये दीये रोशन हुए, इन महिलाओं के चेहरे भी आध्यात्मिक कांति से जगमग हो गए। महाआरती के बाद इन्हें सुहाग की पोटली और प्रसाद देकर विदा किया गया। काली पूजा समिति के अध्यक्ष प्रेम वर्मा ने कहा- हमारा आह्वान था कि महाआरती की थाल सजाएं, भटके युवाओं को राह पर लाएं।

लगभग रात 11 बजे तक जारी रहा यह नजारा

  1. हरमू रोड पर बना पूजा पंडाल।

    शाम के ढलने के साथ ही हरमू रोड काली पूजा उत्सव में पीली साड़ी में सजी माताओं को आना शुरू हो गया था। लगभग 8 बजे 1101 महिलाएं काली पूजा समिति के पूजा पंडाल के समक्ष पंक्तिबद्ध हो गईं। हर के हाथ में 11 दीये वाली आरती की थाली थी। सड़कों की लाइट बुझाने के बाद जैसे ही उनके दीये रौशन हुए, महाआरती गूंजी, सौम्य स्वभाव धरयो मेरी माता, जन की अर्ज कबूल करे... जय जननी जय मातु भवानी, अटल भवन मे राज्य करे। संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली, मैया जै काली कल्याण करे....मंगल कामना करती माताओं के चेहरे आध्यात्मिक कांति से जगमग थे। वहीं आरती संग बजती तालियां वातावरण में भक्ति का संचार करती रहीं। त्वमेव माता च पिता त्वमेव, त्वमेव बंधुश्च सखा त्वमेव। त्वमेव विद्या च द्रविणम त्वमेव, त्वमेव सर्वमम देव देवः के बाद काली के जयकारे के साथ महाआरती समाप्त हुई। 

  2. युवाओं को समर्पित महाआरती

    महाआरती युवाओं को समर्पित रही। समिति के अध्यक्ष प्रेम वर्मा ने बताया कि हमारा आह्वान था, महाआरती की थाल सजाएं, भटके युवाओं को राह पर लाएं। मार्ग से भटके युवा अपनी ऊर्जा का इस्तेमाल राष्ट्रनिर्माण में करें। मां उन्हें शक्ति प्रदान करें। माताओं को सुहाग की पोटली और प्रसाद देकर विदा किया गया। 

Astrology
Click to listen..